Uncategorized

रिम्स दे रहा सरेआम बीमारियों को न्योता, मरीजों को परोसी जा रही सड़ी सब्जियां (देखें वीडियो)

Saurabh Shukla

Ranchi : संतुलित आहार किसी भी इंसान के लिए सबसे जरूरी होता है. संतुलित आहार की जरूरत तब और बढ़ जाती है जब इंसान बीमारी से ग्रसित हो. लेकिन बीमार इंसान का इलाज करने वाले राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स के किचन में बनने वाली सब्जी खा कर मरीज और बीमार पड़ सकते हैं. तस्वीरों में साफ-साफ दिख रहा है कि कैसे किचन का एक कर्मी सड़े हुए पत्ते गोबी का पत्ता हटा कर उसे खाने लायक बना रहा है. जबकि ऐसी सड़ी हुई सब्जियां जानवर के भी खाने लायक नहीं है. लेकिन रिम्स में मेस की सेवा संचालित करने वाली प्राइम मेस के द्वारा ऐसी ही पत्ते गोभी की सब्जियां मरीजों को परोसी जा रही है.

 

ram janam hospital
Catalyst IAS

मरीजों के बेड तक खाना पहुंचाने का है प्रावधान

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

रिम्स में भर्ती मरीजों को संतुलित आहार मिले इसलिए सरकार की तरफ से अस्पताल में भोजन का प्रावधान किया गया है. इस काम के लिए रिम्स प्रबंधन ने प्राइम मेस सर्विस को खाना उपलब्ध करने की जिम्मेवारी दी है. मरीजों को संतुलित आहार मिले इसके लिए डाइटीशियन की भी नियुक्ति की गयी है. मगर रिम्स किचन स्थित डाइटीशियन कक्ष में अकसर ताला लटका रहता है. जबकि नियमतः मरीजों को डाइट चार्ट के अनुसार खाना देने का प्रावधान है. लेकिन मरीजों के डाइट का हाल तस्वीरों में साफ दिखायी देता है.

इसे भी पढ़ें- सावधान पहचाने इन्हें… देखते ही दें पुलिस को सूचना, कुछ देर पहले कोकर में महिला से चेन छीनकर भागे

सड़ी हुई सब्जियां हमारी नहीं : कुमारी मीनाक्षी

प्राइम मेस में सड़ी हुयी सब्जियों की जानकारी जब लेना चाहा तब मेस कर्मी अपना पल्ला झाड़ने लगे. रिम्स की आहारविद (डाइटीशियन) कुमारी मीनाक्षी से जब हमने सड़ी हुयी सब्जियों के विषय में पूछा तो उन्होंने जवाबदेही लेने इंकार कर दिया. कहा कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है. वहीं रिम्स किचन के मैनेजर जयप्रकाश गिरी ने कहा कि सड़ी हुई सब्जियां किसकी है उन्हें भी नहीं पता है. उन्होंने कहा कि किचन के उस कमरे में इमाम नामक किसी ठेकेदार ने कब्जा कर रखा है. यह ठेकेदार रिम्स किचन में पहले सब्जी सप्लाई का काम करता था. रिम्स किचन कर्मियों का यह जवाब संदेह पैदा करने वाला है और सब्जियों की जिम्मेवारी किचन का कोई भी कर्मचारी नहीं ले रहा है. लिहाजा मरीजों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ रिम्स किचन के संचालक प्राइम मेस सर्विस के द्वारा किया जाता है.

इसे भी पढ़ें- लालू की बेटी मीसा व दामाद शैलेश को जमानत, अदालत ने ईडी से पूछा क्यों चाहते हैं कि अदालत ले हिरासत में ?

बाहरी लोगों का किचन के कमरे में कब्जा: डॉ आरके श्रीवास्तव

सड़ी हुई सब्जियों के विषय पर रिम्स निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने कहा कि किचन के कमरे में बाहरी लोगों का कब्जा है. उन्होंने कहा कि कमरे को कब्जा मुक्त किया जा रहा है. अब सवाल ये उठता है कि क्या कमरे के कब्जा होने की जानकारी प्रबंधन को पहले से नहीं थी. आखिर क्यों किचन के डाइटीशियन और मैनेजर ने इसकी जानकारी प्रबंधन को नहीं दी.

 

जवाब देने से बच रहे किचन के कर्मचारी व रिम्स निदेशक

उल्लेखनीय है कि रिम्स में मरीज अपना बेहतर इलाज के लिए आते है. लेकिन मेस के द्वारा दिया जाने वाला भोजन मरीजों के स्वास्थ्य को और खराब कर सकता है. वहीं किचन के कर्मचारी और निदेशक सड़ी हुई सब्जियों की जवाबदेही लेने से बच रहे हैं. इसका ठीकरा इमाम नामक एक ठेकेदार के ऊपर फोड़ते हुए किचन के कमरे को कब्जा होने की बात कह रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button