Uncategorized

रामनवमी पर हुई हिंसा को लेकर केंद्र ने पश्चिम बंगाल सरकार से मांगी रिपोर्ट

New Delhi : केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल में पिछले दो दिन में रामनवमी जुलूस के दौरान हुई आगजनी और हिंसा की घटनाओं पर प्रदेश सरकार से रिपोर्ट मांगी है. साथ ही स्थिति से निपटने के लिए सहायता की पेशकश भी की है. गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार को घटना एवं स्थिति को सामान्य बनाने के लिए उठाए गए कदमों और हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ की गई कार्रवाई के संबंध में रिपोर्ट भेजने को कहा है.

इसे भी पढ़ें- राज्यसभा चुनाव की जीत के बाद यूपीए बना रहा है रणनीति, झारखंड लोकसभा में गठबंधन कर बीजेपी को घेरने की तैयारी

advt

पश्चिम बंगाल के विभिन्न स्थानों पर हुई हिंसा

एमएचए के प्रवक्ता ने कहा कि राज्य के कुछ जिलों से लगातार मिल रही मामूली हिंसा एवं तनाव की खबरों के बीच अर्धसैनिक बलों की सहायता की पेशकश भी की है. पुरूलिया, मुर्शीदाबाद, बर्धमान वेस्ट और रानीगंज सहित पश्चिम बंगाल के विभिन्न स्थानों पर रामनवमी के जुलूस के दौरान रुक-रुककर हुई हिंसक घटनाओं में कम से कम दो लोगों की मौत हो गई थी और करीब 10 से अधिक लोग घायल हुए, जिनमें से कई की हालत गंभीर है.

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक विधानसभा चुनाव : आयोग से पहले सिर्फ बीजेपी ही नहीं बल्कि कांग्रेस के IT इंचार्ज श्रीवत्स ने भी किया तारीखों का एलान, कांग्रेस ने उठाया सवाल तो ट्विटर पर बना मजाक

क्या है रानीगंज हिंसा मामला

पश्चिम बंगाल में रामनवमी के जुलूस निकालने की तैयारी के दौरान सोमवार 11:30 बजे हिल बस्ती में जुलूस पर पथराव किए जाने से शहर में अशांति फैल गई थी. जिसके बाद दो समुदाय आपस में लड़ गए और दंगा भड़क गया. शिव मंदिर रोड और हिल बस्ती में कुछ असमाजिक तत्वों ने घरों में लूटपाट की और मंदिर को क्षतिग्रस्त किया था. जुलूस को लेकर पहले से तैनात पुलिस ने जब रोकना चाहा तब उपद्रवियों ने बम व गोलियों से  शहर को दहला दिया. पुलिस पर भी बम से हमला किया. इसके बाद पुलिस ने बल का प्रयोग किया. वहीं इस दंगे में दो लोगों की मौत हो गयी और कई घायल हो गये थे.

इसे भी पढ़ें- झारखंड सरकारी कर्मियों की बल्ले-बल्ले, निर्वाचन आयोग ने दी सातवें वेतनमान के लिए हरी झंडी, बढ़कर मिलेंगे कई भत्ते

पुलिस पर बम से हमला, डीसीपी का हाथ उड़ा

पुलिसकर्मी तथा दोनों गुटों के 50 से भी अधिक व्यक्ति घायल हो गये. इस दंगे में पुलिस उपायुक्त (मुख्यालय) अरिंदम दत्त चौधरी के हाथ बम विस्फोट में उड़ गयी. जानकारी के मुताबिक पुलिस जब भीड़ को काबू करने की कोशिश कर रही थी तब उपद्रवियों ने पुलिस पर बम से हमला किया. इस दौरान एक बम डीसीपी अरिंदम दत्त चौधरी के हाथ के पास आकर फट गया, जिससे उनका हाथ उड़ गया है. हाथ का निचला हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है. फिलहाल उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया.

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक में फिसली अमित शाह की जुबान, येदियुरप्पा को बताया भ्रष्ट नंबर वन

कई इलाकों में लूटपाट व दुकानों को लगाया आग

शहर में सामुदायिक हिंसा की बात फैलने पर असमाजिक तत्वों ने कई इलाकों में लूटपाट कर दुकानों मे आग लगा दिया था. इस दौरान कई लोग घायल हो गए थे. भीड़ को काबू करने के लिए रैफ उतारा गया. डीसीपी अरिंदम राय चौधरी पर बम से हमला किया गया जीससे वो घायल हो गए थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: