Uncategorized

राज्य के मुखिया की मिलीभगत से हुआ है जेबीवीएनएल में टीडीएस घोटाला, नफरत फैलाकर समाज को बांट रही है भाजपा : विपक्ष

Ranchi : जेबीवीएनएल में टीडीएस घोटाला का पर्दाफाश होने के बाद राजनीतिक गलियारों में भी इस बारे में चर्चा होने लगी है. विपक्ष के लगभग सभी नेता घोटाले का ठीकरा बीजेपी सरकार पर फोड़ रहे हैं. उनका कहना है कि घोटाला जेबीवीएनएल के अधिकारियों ने किया है. जांच के लिए सीएमडी की चिट्ठी के बाद आखिर जांच कैसे बाधित है. अगर ऐसा होता है, तो साफ जाहिर है कि सरकार के इशारे पर सारा काम हो रहा है. कोई भी विभाग का एमडी इतना ताकतवर कैसे हो सकता है कि वह अपने सीनियर अधिकारियों की बात ही न माने. अगर ऐसा होता है, तो साफ तौर पर कहा जा सकता है कि अधिकारी या तो सरकार के इशारे पर काम कर रहे हैं या फिर अधिकारी सरकार की परवाह ही नहीं करते, अपनी मनमानी करते हैं. इसके अलावा खूंटी में प्रशासन और पत्थलगढ़ी समर्थकों के बीच चल रहे खूनी संघर्ष को लेकर भी विपक्ष ने सरकार पर निशाना साधा है. विपक्ष सरकार को इस बात पर भी घेर रहा है कि सरकार धर्म के नाम पर लोगों को बांटने का काम कर रही है.

इसे भी पढ़ेंःड्राइवर की जुबानी सुने खूंटी गैंगरेप की पूरी कहानी

हां, है झामुमो जमींदार : सुप्रियो भट्टाचार्य

Catalyst IAS
ram janam hospital

भाजपा के प्रवक्ता ने कहा है कि ईसाई मिशनरी और झामुमो आदिवासियों के विकास के विरोधी हैं. भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता ने झामुमो को सबसे बड़ा जमींदार बताया. इस पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि झामुमो जमींदार नहीं होगा, तो कौन होगा? बाहरी लोग होंगे क्या? यही जमीन की लूट की पूरी लड़ाई है. वहीं, पांच जुलाई को झारखंड महाबंदी में विपक्षी एकता देखने की बात केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कही. वहीं, जेबीवीएनएल में 15 करोड़ रुपये के टीडीएस घोटाले के सवाल पर झामुमो के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि राहुल पुरवार का संपूर्ण कार्यकाल देखियेगा, तो इससे बड़ा घोटालेबाज कोई नहीं होगा. राहुल पुरवार और घोटालेबाज दोनों पर्यायवाची शब्द हैं.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें- ‘चुनाव आता है तो भाजपा कराती है दंगा’

अनाप-शनाप बयान दे जनता को बांट रही है भाजपा : अन्नपूर्णा 

राजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी ने भाजपा पर धार्मिक आधार पर लोगों को बांटने, समाज में नफरत फैलाने का आरोप लगाया है. न्यूज विंग से बातचीत में उन्होंने बताया कि भाजपा अभी सत्ता में है. उसके पास पावर है. उसे विकास पर ध्यान देना चाहिए. लेकिन ऐसा न कर वह लोगों को धार्मिक आधार पर बांटने का काम कर रही है. अगर उसे लगता है कि ईसाई मिशनरी ऐसा कर राज्य के विकास को प्रभावित कर रही है, तो उस पर उचित कार्रवाई करनी चाहिए. लेकिन भाजपा कानून को सुधारने की बजाय किसी न किसी तरह से चर्चा में रहना चाहती है. इसीलिए वह हमेशा अनाप-शनाप बयान देती रहती है. दरअसल, इसके पीछे भाजपा की एक सोची-समझी राजनीति है, वह है आदिवासी समाज को बांटकर उसका अपना वोट बैंक मजबूत हो. वास्तव में भाजपा की यह पुरानी रणनीति है कि जब-जब चुनाव नजदीक आता है, वह धार्मिक आधार की बातों को अपने एजेंडे में शामिल कर लेती है. वहीं, जेबीवीएनएल में चल रही गड़बड़ियों को लेकर कहा कि राज्य सरकार वर्तमान में भ्रष्टाचार के घमंड में डूबी हुई है. दरअसल, हमें लगता है कि भाजपा के राज में केवल जेबीवीएनएल में ही घोटाला नहीं हो रहा है, बल्कि वास्तविकता यह है कि सारे विभाग ही भ्रष्टाचार में लिप्त हैं. राज्य के मुखिया के अधीन काम करनेवाले जेबीवीएनएल में हुए घोटाले से साफ है कि उनकी जानकारी और मिलीभगत से ही वहां भ्रष्टाचार हो रहा है. 

भाजपा का काम ही है अल्पसंख्यक के खिलाफ बोलना : कांग्रेस

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केएन त्रिपाठी ने न्यूज विंग को बताया कि भाजपा का केवल एक ही काम बचा है, वह है धार्मिक राजनीति करना. ऐसा करने के लिए ही वह अल्पसंख्यक के खिलाफ हमेशा बोलती रहती है. भाजपा ने तो हमेशा मुसलमानों और ईसाइयों के खिलाफ बयान देने का काम किया है. कांग्रेस पार्टी का मानना है कि राज्य में रहनेवाले सभी लोग राज्य के विकास के भागीदार हैं. ऐसे में कोई भी जाति विकास विरोधी कैसे हो सकता है. जेबीवीएनएल में हुए घोटाले पर उनका कहना है भाजपा जब से सत्ता में आयी है, तब से सभी विभागों में घोटाला अपने चरम पर है. कांग्रेस पार्टी हमेशा ही इन्हीं मुद्दों को लेकर भाजपा के खिलाफ बोलते रही है, ताकि भाजपा का झूठ राज्य की जनता जान सके. राज्य के मुखिया रघुवर दास को चाहिए कि तत्काल ही इस घोटाले की जांच करवायें.

इसे भी पढ़ेंःखूंटी : पुलिस-पत्थलगड़ी समर्थकों की झड़प में एक की मौत, 50 से ज्यादा हिरासत में

घोटालेबाजों को बख्शा नहीं जाना चाहिए : आजसू

न्यूज विंग से बात करते हुए आजसू के प्रवक्ता देवशरण भगत ने कहा कि घोटालेबाज को किसी भी स्थिति में नहीं बख्शा जाना चाहिए और कड़ी से कड़ी कर्रवाई करके घोटालेबाज को पकड़कर जेल में भी डालना चाहिए. केवल घोटाला हुआ है, यह उजागर करना काफी नहीं, बल्कि उसमें जितने लोग हैं, उन सभी संदिग्ध व्यक्तियों पर कर्रवाई करनी चाहिए. बीजेपी पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि इन लोगों ने आरोप लगाया है कि चर्च ने अवैध रूप से जमीन पर कब्जा किया है. बीजेपी की सरकार है. उन्हें यह हक है कि यह वैध है कि अवैध है, उसकी जांच करा लें. किसी को अवैध कह देने मात्र से वह अवैध नहीं होता है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button