Uncategorized

यूएन में भारत ने दिखाया पाक को आईना, कहा : पाकिस्तान अब टेररिस्तान

News Wing

UN, 22 September: यूएन में भारत ने पाकिस्तान को एक बार फिर आईना दिखाया है. कश्मीर मुद्दे को लेकर यूएन में रोना रो रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी पर भारत ने जमकर पलटवार किया है. भारत ने राइट टू रिप्लाई के अधिकार के तहत यूएन में कहा है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन की सुरक्षा की और मुल्लाह उमर को आश्रय दिया, अब खुद आंतक का शिकार होने का तर्क दे रहा है. भारत ने पाक पीएम के उस बयान की निंदा करते हुए यह बात कही जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को आतंक का शिकार होने का तर्क दिया था. भारत ने पाकिस्तान को आतंकियों को जन्म देने वाला देश बताया. कहा कि पाकिस्तान टेररिस्तान है जो दुनिया में आतंकियों को एक्सपोर्ट करता है.

दुनिया के आतंकियों को एकत्रित करने की जगह है पाकिस्तान

कश्मीर मसले पर भी भारत ने पाकिस्तान को साफ संदेश दिया. भारत ने कहा कि कश्मीर हमारा अभिन्न अंग है. पाकिस्तान सीमा पार से कितने भी आतंकी भेज ले, लेकिन वह हमारी क्षेत्रीय अखंडता को खत्म नहीं कर सकता. भारत कहा कि पूरी दुनिया में जो देश आतंकियों की सप्लाई करता है, वह हमें मानवाधिकार पर भाषण देता है. यह असहज स्थिति है. जो देश खुद के लोगों पर जुल्म करता हो, दुनिया को उससे मानवाधिकार सीखने की जरूरत नहीं है. भारत ने कहा कि पाकिस्तान दुनिया के आतंकियों को एक करने की जगह है. केवल यही वो देश है जो विनाशकारी सलाह देगा, जिसके परिणाम दुनिया को परेशान करेंगे.

भारत ने दुनिया के सामने रखा पाक का कच्चा चिट्ठा

भारत ने यूएन में पाकिस्तान का सारा कच्चा चिट्ठा दुनिया के सामने रखा और पाकिस्तान को टेररिस्तान करार दिया. संयुक्त राष्ट्र में भारतीय राजनयिक एनम गंभीर ने इन 10 खुलासों से पाकिस्तान की हकीकत दुनिया के सामने कर दी.

पाकिस्तान के खिलाफ भारत के 10 खुलासे

1. पाकिस्तान अब ‘टेररिस्तान ‘ है. वह आतंक का पर्याय बन चुका है. आतंकवाद वहां एक फलता-फूलता उद्योग है जो वैश्विक आतंकवाद को पैदा करता है और उसका निर्यात करता है.

2. यह कितनी अजीब बात है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन को संरक्षण दिया और मुल्ला उमर को शरण दे रखी है वही देश खुद को पीड़ित बता रहा य..

3. वैकल्पिक तथ्यों को तैयार करने के प्रयासों से वास्तविकता नहीं बदल जाती.

4. पाकिस्तान अपने छोटे से इतिहास में आतंक का पर्याय बन चुका है.

5. पाकिस्तान के सभी पड़ोसी देश उसके तथ्यों को तोड़ने-मरोड़ने, धूर्तता, बेईमानी तथा छल-कपट पर आधारित कहानियां तैयार करने की उसकी चालों से भलीभांति परिचित और परेशान हैं.

6. टेररिस्तान एक ऐसा क्षेत्र है जिसके आतंक के वैश्विकरण में योगदान की तुलना हो ही नहीं सकती.

7. वर्तमान स्थिति का अंदाजा इसी तथ्य से लगाया जा सकता है कि लश्कर ए तैयबा जिसे संयुक्त राष्ट्र ने आतंकी संगठन घोषित किया है, उसका प्रमुख हाफिज मोहम्मद सईद अब राजनीतिक दल का नेता बनने की तैयारी कर रहा है.

8. पाकिस्तान चाहे सीमा पार आतंकवाद को कितना ही बढ़ाए लेकिन वह भारत की क्षेत्रीय अखंडता को कमतर करने में कभी कामयाब नहीं होगा.

9. पाकिस्तान को केवल यह समझाया जा सकता है कि वह दुनिया को तबाह करने के विचार को त्याग दे क्योंकि इसकी वजह से पूरी दुनिया को कष्ट उठाना पड़ा है.

10. अगर उसे समझाया जा सके कि यदि वह सभ्यता, व्यवस्था और अमन के प्रति प्रतिबद्धता जताएगा तभी उसे साझा हितों से जुड़े राष्ट्रों के संघ में स्वीकार्यता मिल सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button