Uncategorized

मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह के मामलों की वजह से लगे मेरे ऊपर भ्रष्टाचार के मामले : शरीफ

Islamabad : पाकिस्तान के संकट में चल रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामले इस लिए दायर किए गये हैं, क्योंकि उन्होंने पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह के तीन मामले चलाये थे. 68 वर्षीय शरीफ ने कहा कि उन्होंने देश में आपातकाल लगाने के लिए मुशर्रफ के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की. इसका बदला लेने के लिए न केवल उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले बनाये गये बल्कि 2014 में धरने प्रदर्शन भी किये गये.

इसे भी पढ़ें – पाकिस्तानः गर्म हवाओं की चपेट में कराची, तीन दिनों में 65 लोगों की मौत !

अदालत में पेश हुए शरीफ

Catalyst IAS
SIP abacus

शरीफ यहां जवाबदेही अदालत के समक्ष हाजिर हुए और उन 128 सवालों पर अपने जवाब दिये जो अदालत ने उनसे पूछे थे. शरीफ ने संवाददाताओं से कहा कि चुनावों के बाद, मेरी सरकार ने मुशर्रफ के खिलाफ कानूनन देशद्रोह का मामला शुरू करने के लिए वकीलों से संपर्क किया. मुझे पहले ही चेता दिया गया था कि अगर मैंने ऐसा किया तो पूर्व राष्ट्रपति को तो खरोंच भी नहीं आएगी लेकिन आपको जरूरत दिक्कत होगी. शरीफ ने कहा कि इस धमकी के बावजूद वे मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह का मामला चलाने के अपने फैसले से पीछे नहीं हटे. शरीफ के अनुसार उन्हें इसी की कीमत चुकानी पड़ रही है. शरीफ ने अपना बयान तीन दिन में दर्ज कराया.  उल्लेखनीय है कि जवाबदेही अदालत में शरीफ व उनके परिवार के खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामले चल रहे हैं. पनामा पैपर्स मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने ये मामले दर्ज करवाए हैं. शरीफ के साथ उनकी बेटी मरियम नवाज व दामाद मोहम्मद सफदर पर भी भ्रष्ट तरीकों से लंदन में संपत्ति खरीदने का आरोप है.

MDLM
Sanjeevani

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button