Uncategorized

मुख्‍यमंत्री हेमंत ने जीता विश्‍वास मत

रांची: मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने झारखंड विधानसभा में विश्‍वास मत हासिल कर लिया है। 81 सदस्‍यों वाली विधानसभा में सत्‍ता पक्ष को 43 वोट मिले जबकि विपक्ष को मात्र 37 वोट। हिरासत में ही विधानसभा पहुंचे कांग्रेस विधायक सावना लकड़ा ने भी हेमंत के पक्ष में वोट दिया। तीन अन्‍य विधायक झारखंड मुक्ति मोर्चा के नलिन सोरेन, सीता सोरेन एवं निर्दलीय चमरा लिंडा ने भी हेमंत के पक्ष में वोट दिया। इन तीनों पर कई मुकदमें चल रहे हैं। बताया गया कि सुप्रीम कोर्ट व स्‍थानीय कोर्ट से इन्‍हें छूट मिल गयी। अन्‍य निर्दलीय विधायक बंधु तिर्की, विदेश सिंह, अरूप चटर्जी, एनोस एक्‍का व हरिनारायण राय ने भी हेमंत के पक्ष में वोट दिया। इधर झारखंड विकास मोर्चा के विधायक निजामुद्दीन अंसारी सदन से अनुपस्थित रहे।

इससे पहले, झारखंड विधानसभा के इस विशेष सत्र (18 जुलाई 2013) में हेमंत ने विश्‍वास मत का प्रस्‍ताव रखा। इस पर विपक्ष की ओर से भाजपा के अर्जुन मुंडा, रघुवर दास, झाविमो को प्रदीप यादव, आदि ने विश्‍वास प्रस्‍ताव का जमकर मुखालफत की। मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि यह वक्‍त पक्ष विपक्ष की छींटाकशी का नहीं होना चाहिए। हमारे प्रयास से राज्‍य से राष्‍ट्रपति शासन हटा और लोकतांत्रिक प्रक्रिया बहाल हुई जिसके तहत ही यह विधानसभा सत्र बुलाया जा सका है। सदस्‍यों को इस बात की प्रसन्‍नता जतानी चाहिए कि राज्‍य में फिर से लोकतंत्र बहाल हुआ है। मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्‍य बदहाल है। ऐसे में सदन का दायित्‍व होता है कि मिल जुल कर वर्तमान सरकार को स्थिरता दें जिससे विकास की गाड़ी पटरी पर दौड़ने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button