Uncategorized

भूख से मौत का डाटा तैयार करेगी सात सदस्यीय समिति

Ranchi: राज्य में भूख से होने वाली मौतों के बारे में स्पष्ट डाटा तैयार करने के लिए सरकार ने निदेशक खाद्य सुनील कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में सात सदस्यीय समिति गठित कर दी है. मंत्री सरयू राय के निर्देश पर गठित इस समिति में सुप्रीम कोर्ट द्वारा मनोनीत खाद्य सुरक्षा आयुक्त के झारखंड सलाहकार बलराम, राज्य उपभोक्ता संरक्षण परिषद के सदस्य राकेश कुमार सिंह, भोजन का अधिकार झारखंड के संयोजक अशर्फी नंद प्रसाद, राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के डॉक्टर सुरनजीत प्रसाद के अलावा स्कूली शिक्षा, साक्षरता विभाग, महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग द्वारा नामित संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी शामिल होंगे.

इसे भी पढ़ें – जिस बीजेपी ने चारा घोटाले का पर्दाफाश किया था, अब उसी की सत्ता में रहते झारखंड में भी हो गया चारा घोटाला

भूख से मौत की खबरें आने के बाद मंत्री सरयू राय ने डाटा तैयार करने का निर्देश दिया था

Catalyst IAS
ram janam hospital

उल्लेखनीय है कि राज्य में भूख से कथित मौतों की खबरें मीडिया में आने के बाद खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के मंत्री सरयू राय ने विभागीय सचिव को एक पत्र लिखकर भूख से मौतों के बारे में एक स्पष्ट डाटा तैयार करने का निर्देश दिया था. मंत्री ने कहा था कि उक्त संलेख में मृतक के परिवार के सामाजिक स्तर की जानकारी, उसके राशन कार्ड, पेंशन और सरकारी योजनाओं से आच्छादित होने, उन योजनाओं का लाभ मिलने की सूचना तथा उसके वृद्ध, विधवा, परित्यक्ता अथवा दिव्यांग श्रेणियों में होने अथवा ना होने जैसे बिंदुओं को संलेख का आधार बनाया जा सकता है. 

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

इसे भी पढ़ें – ग्रामीणों की इच्छाशक्ति से बनलोटवा गांव बना नशामुक्त व ओडीएफ, मगर सरकार नहीं दिखा रही इच्छाशक्ति

भोजन का अधिकार संविधान में मौलिक अधिकार

मंत्री ने लिखा था कि आए दिन भूख से मरने की खबरें समाचार पत्रों में छप रही हैं. भोजन का अधिकार से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता आरोप लगाते हैं कि ऐसी मौतें भूख से हुई है. दूसरी ओर सरकार के अधिकारी प्रतिवेदन देते हैं कि ये मौतें किसी न किसी बीमारी से हुई हैं. मंत्री ने लिखा था कि भूख अथवा बीमारी, दोनों स्थितियों में मौत दुर्भाग्यपूर्ण है. भोजन का अधिकार संविधान में मौलिक अधिकार है और कोई भी व्यक्ति भूखा ना रहे यह सुनिश्चित करना सरकार का दायित्व है. इसी निर्देश के आलोक में उक्त समिति का गठन किया गया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button