Uncategorized

भारतीय सिनेमा की युवा आवाज बने वरुण चोपड़ा

News Wing

Mumbai, 27 August: वरुण चोपड़ा (23) एक ऐसे युवा निर्देशक हैं, जो विदेशी धरती पर अपने देश का नाम रोशन कर रहे हैं. वह क्रॉस फिल्म यानी वे विदेशी फिल्में, जो दो देशों को कला और सांस्कृतिक तौर पर जोड़ती हैं, को बढ़ावा देने में जुटे हैं. वरुण देश के सबसे युवा फिल्मकार हैं, जिनकी लघु फिल्म ‘गॉड ऑन ए लीश’ प्रतिष्ठित कांस फिल्म महोत्सव में प्रदर्शित हो चुकी है इसकी शूटिंग दिल्ली में हुई है.फिल्म में आजीविका के लिए बंदर पालने का काम करने वाले मदारी और बंदर का रूप धरने वाले बहुरूपिए को दिखाया गया है. अपनी लघु फिल्म ‘गॉड ऑन ए लीश’ के द्वारा वरुण न सिर्फ देश में लोकप्रिय हो गए हैं, बल्कि वह हॉलीवुड में भी भारत की स्वतंत्र आवाज बन कर उभरे हैं.

फिल्में एक-दूसरे से बिल्कुल अलग लोगों को जुड़ने और समझने में मदद करता है:वरुण चोपड़ा

अपनी कामयाबी के बारे में वरुण कहते हैं, “आज के जमाने में सिनेमा के जरिये सीमा पार सांस्कृतिक आदान-प्रदान ही एक सुचारु रूप से जुड़ी हुई दुनिया की सच्चाई है.” यह पूछे जाने पर कि सिनेमा का सांस्कृतिक आदान-प्रदान मौजूदा दौर में कितना महत्वपूर्ण है? इस पर वरुण ने कहा, “फिल्में एक ऐसा माध्यम हैं जो सीमा, भाषा या सांस्कृतिक बंधनों से मुक्त होकर एक-दूसरे को जोड़ती हैं. सिनेमा के इस तरह के सांस्कृतिक आदान-प्रदान का महत्व यह है कि एक-दूसरे से बिल्कुल अलग लोगों को जुड़ने और समझने में मदद करता है.”

नए तरह के सिनेमा को भारत में लाने को बहुत उत्साहित हैं वरुण

हॉलीवुड में अपना जलवा दिखाने के बाद जब वरुण से भारतीय सिनेमा के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि नए तरह के सिनेमा को भारत में लाने को लेकर वह बहुत उत्साहित हैं और वह कोशिश करेंगे कि अपनी निर्माण शैली के जरिए वह भारतीय दर्शकों के बीच भी लोकप्रिय हो सकें. वरुण पूरी दुनिया में अपनी छाप छोड़ने की ख्वाहिश रखते हैं और लोगों के सामने अपनी प्रतिभा को और विविधतापूर्ण सिनेमा को पेश करना चाहते हैं.

विदेशी धरती पर काम करना आसान नहीं होता

जब वरुण से उनके हॉलीवुड में काम करने का अनुभव पूछा गया तो उन्होंने कहा कि विदेशी धरती पर काम करना आसान नहीं होता, लेकिन आजकल का माहौल प्रोत्साहित करने वाला हो गया है. वरुण का कहना है कि वह कोशिश करते हैं कि अपनी फिल्मों में सच्ची घटनाओं से जुड़ी कहानियों को लोगों के सामने ला सकें. उनकी नवीनतम लघु फिल्म ‘अबेंडन’ पूरी तरह से अमेरिका में फिल्माई गई है और यह पालन-पोषण संबंधी व देखभाल संबंधी एक सच्ची घटना पर आधारित है. वरुण नेटफ्लिक्स की टीवी सीरीज पर भी काम कर रहे हैं। वह ‘द हॉलीवुड मास्टर्स’ नाम की सीरीज में बतौर एडिटर काम कर रहे हैं. साथ ही तीन अलग-अलग प्रोजेक्टों पर भी काम कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button