Uncategorized

फूलपुर लोकसभा उपचुनाव : एक बजे तक औसतन 19.2 प्रतिशत मतदान, फूलपुर विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 25.3 % मतदान

Alahabad : फूलपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए रविवार को हो रहे मतदान में दोपहर एक बजे तक औसत 19.2 प्रतिशत मत पड़े हैं. फूलपुर संसदीय सीट पर हो रहे उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) गठबंधन समेत कुल 22 प्रत्याशी मैदान में हैं. पांच विधानसभा क्षेत्रों वाले इस संसदीय क्षेत्र में करीब 19.63 लाख मतदाता हैं. अभी तक सबसे अधिक 25.3 प्रतिशत मतदान फूलपुर विधानसभा क्षेत्र में दर्ज किया गया, जबकि फाफामऊ में 22 प्रतिशत, सोरांव में 19.8 प्रतिशत, इलाहाबाद पश्चिम में 19 प्रतिशत और इलाहाबाद उत्तर में 10 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.

 

इसे भी पढ़ें – भाजपा जिला कोषाध्यक्ष की हत्या के विरोध में लोहरदगा बंद, दुकानदारों ने स्वत: बंद की अपनी दुकानें

इसे भी पढ़ें – वीडियो में देखिये कैसे अपराधियों ने भाजपा नेता पंकज गुप्ता को मारी गोली

ram janam hospital
Catalyst IAS

पांच विधानसभा क्षेत्रों में 2,155 बूथों पर मतदान हो रहा है

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

फूलपुर लोकसभा के अंतर्गत कुल पांच विधानसभा क्षेत्रों में 2,155 बूथों पर मतदान हो रहा है. जिला के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुहास एल.वाई के मुताबिक इस चुनाव के लिए 10 सुपर जोनल मजिस्ट्रेट, 20 जोनल मजिस्ट्रेट और 152 सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की गयी है.

अखिलेश यादव के पिछले कार्यों को देखकर जनता करेगी हमारा समर्थन : नागेंद्र प्रताप सिंह

जार्ज टाउन स्थित गोल्डन जुबली स्कूल में सुबह सात बजे मतदान करने पहुंचे सपा प्रत्याशी नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने कहा कि जनता अखिलेश यादव के पिछले कार्यों को देखते हुए हमारे पक्ष में वोट करेगी. अब हमें मायावती का भी आशीर्वाद प्राप्त है और निश्चित ही समाजवादी पार्टी की जीत होगी. बसपा के समर्थन से हम भारी मतों से जीतेंगे. 

 

इसे भी पढ़ें – दुस्साहस : पिस्का में दिन दहाड़े लोहरदगा जिला कोषाध्यक्ष पंकज गुप्ता की गोली मार कर हत्या

इसे भी पढ़ें – सिमडेगा पुलिस को मिली सफलता, जिंदा गोली सहित PLFI उग्रवादी गिरफ्तार

14 को नतीजे आने के बाद बुआ और भतीजे को लगेगा गहरा सदमा : केशव मौर्य

सिविल लाइंस स्थित ज्वाला देवी इंटर कॉलेज में पत्नी के साथ मतदान करने के बाद प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य ने कहा कि 14 तारीख को जब नतीजे आयेंगे तो हो सकता है कि बुआ और भतीजे को गहरा सदमा लगे. सपा बसपा के नेता साथ आए हैं, जनता साथ नहीं आयी है. इसलिए भाजपा बड़े अंतर से जीत रही है. कांग्रेस प्रत्याशी मनीष मिश्र ने सुबह आठ बजे फूलपुर विधानसभा के जमुनीपुर स्थित प्राइमरी पाठशाला में बूथ संख्या 386 पर मतदान किया.

पं. जवाहर लाल नेहरू के निधन के बाद 1964 में फूलपुर लोकसभा सीट पर पहला उपचुनाव हुआ था

देश के प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की कर्मभूमि फूलपुर लोकसभा का यह तीसरा उप चुनाव है. उनके निधन के बाद 1964 में इस सीट पर पहला उपचुनाव हुआ और उनकी बहन विजयलक्ष्मी पंडित ने कांग्रेस से जीत दर्ज की. इसके बाद विजयलक्ष्मी पंडित के 1969 में संयुक्त राष्ट्र में प्रतिनिधि बनने के बाद इस्तीफा देने से रिक्त हुयी सीट पर दोबारा उपचुनाव हुआ और तब कांग्रेस ने केशव देव मालवीय को मैदान में उतारा. हालांकि वह संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी के उम्मीदवार जनेश्वर मिश्र से हार गए थे. उल्लेखनीय है कि फूलपुर का चुनावी इतिहास इस बात का साक्षी है कि इस सीट पर निर्दलीय और छोटे दलों के प्रत्याशियों को जीत तो हासिल नहीं होती, लेकिन वे मजबूत उम्मीदवार के वोट बैंक में सेंध लगा देते हैं, जिससे परिणाम ही पलट जाता है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button