Uncategorized

‘पोस्टमैन’ बन रियो तक जनता की शुभकामनाएं पहुंचाना चाहते हैं मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि वह रियो ओलम्पिक-2016 में हिस्सा लेने गए भारतीय दल के लिए शुभकामनाएं भेजने हेतु ‘डाकिये’ की भूमिका निभाने के लिए तैयार हैं। मोदी ने कहा कि यह 1.25 अरब लोगों की जिम्मेदारी है कि वे भारतीय खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाएं। ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में पांच से 21 अगस्त तक ओलम्पिक खेलों का आयोजन होगा।

मोदी ने यहां अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा, “खेल ‘महाकुंभ’ का आयोजन किया जा रहा है। इसमें पूरा विश्व खेलेगा। इसमें हर देश की नजर अपने वतन के खिलाड़ी पर होगी, हम भी ऐसा ही करेंगे। मैं आपके संदेशों को हमारे देश के खिलाड़ियों तक पहुंचाने के लिए आपका पोस्टमैन बनने के लिए तैयार हूं। ”

advt

प्रधानमंत्री ने रियो ओलम्पिक-2016 में हिस्सा ले रहे भारतीय दल को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि एक इंसान रातों-रात खिलाड़ी नहीं बनता। इसमें काफी मेहनत और संयम की आवश्यकता होती है।

रियो ओलम्पिक-2016 में भारत के 119 एथलीट हिस्सा ले रहे हैं।

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में आयोजित ‘रन फॉर रियो’ को हरी झंडी दिखाने से पहले कहा कि सरकारे रियो ओलम्पिक-2016 में हिस्सा लेने वाले भारतीय दल के एथलीटों को हर प्रकार की मदद पहुंचाएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें आशा है कि भारतीय एथलीट इस प्रतियोगिता में अपने अच्छे प्रदर्शन से दुनियाभर के लोगों का दिल जीत लेंगे।

मोदी ने कहा, “मुझे आशा है कि 119 सदस्यीय भारतीय दल ओलम्पिक खेलों में अच्छा प्रदर्शन करेगा और वे दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से आए लोगों के दिलों को जीतने में भी सक्षम होंगे।”

प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही इस बात पर भी संतुष्टि जताई कि भारत समय रहते 119 सदस्यीय एथलीटों के दल को रियो ओलम्पिक-2016 भेजने में सक्षम रहा।

मोदी ने कहा, “ओलम्पिक खेलों के साथ भारत पिछले 100 साल से जुड़ा हुआ है, लेकिन केवल इस वर्ष ही हम 119 सदस्यीय दल रियो भेजने में सक्षम रहे।”

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि पूरा भारतीय दल इन खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार है और सरकार ने एथलीटों के प्रशिक्षण का पूरा ध्यान रखा है।

मोदी ने कहा, “हमने उनके खान-पान, प्रशिक्षण के लिए विशेष बजट आवंटित किया है। खिलाड़ियों से यह भी पूछा गया कि वे कहां और किसके नेतृत्व में प्रशिक्षण लेना चाहते हैं और इस प्रकार प्रत्येक एथलीट के लिए सभी इंतजाम किए गए। सरकार एक एथलीट पर 30 लाख रुपये से लेकर 1.5 करोड़ रुपये तक खर्च कर रही है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय दल को अच्छा भारतीय खानपान मुहैया कराने का भी ध्यान रखा गया है।

मेजबान देश में नई परिस्थितियों के बीच खिलाड़ियों के सामंजस्य बिठाने के संदर्भ में उन्होंने कहा कि इसलिए खिलाड़ियों को पहले ही रियो भेज दिया गया है, ताकि वे समय रहते वहां की परिस्थितियों के साथ तालमेल बिठा सकें।

प्रधानमंत्री ने लोगों को अगले ओलम्पिक खेलों के लिए तैयारियां शुरू करने के लिए भी कहा है, जिसका आयोजन 2020 में टोक्यो में होगा।

उन्होंने कहा कि देश के हर जिले को अंतर्राष्ट्रीय खेलों में अपना एक खिलाड़ी जरूर भेजना चाहिए।

मोदी ने कहा, “हमारी सरकार अगले टोक्यो ओलम्पिक-2020 की तैयारी के लिए खिलाड़ियों को हर प्रकार का समर्थन देगी।”

रियो ओलम्पिक-2016 के लिए भारतीय दल को शुभकामनाएं देते हुए मोदी ने कहा कि भारत इस वर्ष 15 अगस्त को अपना 70वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा, जो ओलम्पिक खेलों में भारतीय दल के शानदार प्रदर्शन में भी नजर आएगा।

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: