Uncategorized

पलामू : स्वच्छ भारत का सपना शौचालय बनाने से नहीं, उसकी उपयोगिता से होगा पूरा : डीडीसी

यूनिसेफ की रिपोर्ट : शौचालय के प्रयोग मात्र से ही 90 प्रतिशत बीमारियां होती है दूर

Daltonganj : यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार मात्र शौचालय के नियमित उपयोग और स्वच्छता की आदतों को अपनाने से 90 प्रतिशत बीमारियां खत्म हो जाती है. साथ ही वैसे परिवार जो नियमित शौचालय का उपयोग करते हैं, उनका सालाना इलाज पर होने वाले खर्च (लगभग 50000 रुपये) की बचत होती है. उप विकास आयुक्त बिंदू माधव सिंह ने पलामू जिले के सभी प्रखंडों के खुले में शौच मुक्त हो चुके पंचायतों के ग्रामीणों से नियमित शौचालय का प्रयोग करने का आग्रह किया.

स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की ओर से आयोजित कार्यशाला में वे बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की परिकल्पना सिर्फ शौचालय निर्माण का ही नहीं, बल्कि शत-प्रतिशत उसकी उपयोगिता सुनिश्चित कराना है. कार्यशाला में पड़वा, मनातू, सतबरवा, पिपरा, मोहम्मदगंज एवं नावाबाजार प्रखंड के मुखिया उपस्थित थे. कार्यशाला के दौरान शौचालय उपयोगिता हेतु स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के कार्यक्रमों से अवगत कराया गया.

advt

इसे भी पढ़ेंः पलामू: मेडिकेयर पैथोलॉजी के संचालक पर प्राथमिकी दर्ज, खून के गोरखधंधे का मामला

ग्रामीणों को शौचालय उपयोगिता के लिए प्रेरित करें

मौके पर यूनिसेफ के विंध्याचल चंद्रा ने शौचालय उपयोगिता हेतु विभिन्न आयामों पर लोगों को जानकारी दी. कार्यपालक अभियंता, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने ठोस-तरल कचरा प्रबंधन पर चर्चा की. उन्होंने कहा कि बदलते परिवेश में गांवों को स्वच्छ रखना हमारे लिए बड़ी चुनौती है, इसलिए ओडीएफ हो चुके ग्राम पंचायतों के मुखिया से हमारा आग्रह है कि वे 14वें वित्त की राशि का उपयोग कर स्वच्छता की आदतों को ग्रामीणों के बीच व्यवहृत कराने हेतु सहयोग प्रदान करें.

इसे भी पढ़ेंः पाकुड़ मनरेगा घोटाला : आईजी ने एसपी को दिया जांच का आदेश, आवेदक ने की डीएसपी को जांच से अलग करने की गुजारिश

रामगढ़ जिला के दुलमी प्रखंड के उसरा पंचायत के मुखिया शैलेश चौधरी ने कहा कि 14वें वित्त से प्राप्त अधिकार हमें गांवों को निर्मल बनाने में सहयोग प्रदान करता है. इस राशि का सदुपयोग कर हम अपने गांवों को स्वच्छ और सुंदर बना सकते हैं. कार्यक्रम में जिला पंचायती राज पदाधिकारी शांति पांडेय ने भी अपने विचार रखें.

कार्यक्रम में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कनीय अभियंता रणवीर सिंह, जिला प्रेरक नवाज नूर, सुमन भारती, जिला परामर्शी कनक राज पाठक, धर्मेन्द्र कुमार दुबे, अमित कुमार, सहायक परामर्शी मनोज कुमार, कंप्यूटर ऑपरेटर अनुज कुमार श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.                                   

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: