Uncategorized

परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम, 5,000 किमी की मारक क्षमता वाली मिसाइल अग्नि-5 का सफल परीक्षण

Balasoreओडिशा के बालासोर में रविवार को परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम स्वदेशी मिसाइल अग्नि-5 का सफल परीक्षण भारत ने किया. 5,000 किमी तक की मारक क्षमता वाली लॉन्ग रेंज बलिस्टिक मिसाइल को डॉ. अब्दुल कलाम टापू से लॉन्च किया गया. यह अब तक की सबसे एडवांस्ड मिसइल है.  यह मिसाइल जमीन से जमीन तक वार कर सकती है. रक्षा सूत्रों के अनुसार इसे बंगाल की खाड़ी स्थित कलाम टापू के इंटिग्रेटेड टेस्ट रेंज के पैड-4 से 9:48 बजे लॉन्च किया गया. अग्नि-5 का परीक्षण छठी बार किया गया है. परीक्षण के दौरान मिसाइल ने क्षमता के अनुसार दूरी तय की.  सूत्रों के अनुसार मिसाइल की फ्लाइट परफॉर्मेंस को ट्रैक किया गया और रडार, उपकरणों और ऑब्जर्वेशन स्टेशन्स के जरिये मॉनिटर किया गया. रक्षा शोध और विकास संगठन के एक अधिकारी के अनुसार दूसरी मिसाइलों से अलग अग्नि-5 सबसे एडवांस्ड है.

इसे भी पढ़ें  :  विदेश यात्रा पर गयीं सुषमा के विमान का संपर्क 14 मिनट तक टूटा रहा, अधिकारी हलकान

यह नैविगेशन और दिशा-निर्देशन, वॉरहेड और इंजिन संबंधी नयी तकनीकों से लैस है

यह नैविगेशन और दिशा-निर्देशन, वॉरहेड और इंजिन संबंधी नयी तकनीकों से लैस है. अधिकारी ने बताया कि मिसाइल में स्थित हाई-स्पीड कंप्यूटर और किसी भी खामी को सहने की क्षमता वाले सॉफ्टवेयर के साथ ही रोबस्ट और भरोसेमंद बस ने मिसाइल को सफलता से लॉन्च होने में मदद की. इस मिसाइल की संरचना ऐसी है कि यह अपनी अधिकतम ऊंचाई तय करने के बाद पृथ्वी पर अपने लक्ष्य की ओर गुरुत्वाकार्षण बल के कारण तेज गति से बढ़ती है.  पृथ्वी के वायुमंडल में आते वक्त मिसाइल से लड़ने वाली हवा इसका तापमान 4000 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ा देती है. इसके लिए इसमें कार्बन-कार्बन कंपोजिट शील्ड लगी है जो अंदर का तापमान 50 डिग्री से कम बनाकर रखती है. अग्नि-5’ का पहला परीक्षण 19 अप्रैल 2012 को, दूसरा 15 सितंबर 2013, तीसरा 31 जनवरी 2015 और चौथा परीक्षण 26 दिसंबर 2016 को किया गया. पांचवा परीक्षण 18 जनवरी 2018 को हुआ.  बता दें कि पांचों परीक्षण सफल करार दिये गये थे.  

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button