Uncategorized

धनबाद में ब्लू व्हेल का शिकार बनने से बचा छात्र

News Wing
Dhanbad, 19 September: आज-कल ब्लू व्हेल नामक एक गेम चिंता का विषय बना हुआ है. इस गेम ने ना जाने कितने ही लोगों की जाने ले ली है. बच्चे लागातार इस चक्रव्यूह में फंसते जा रहे हैं. इसी कड़ी में एक और मामला सामने आया है. यह मामला धनबाद का है. जहां एक सीबीएसई स्कूल में चौथी क्लास में पढ़ने वाले छात्र के हांथ पर बने  ब्लू व्हेल के चित्र पर उसकी टीचर की नजर पड़ी.

स्कूल की सजगता से बची छात्र की जान

टीचर ने फौरन इस बात की सूचना स्कूल के प्रबंधन को दिया जिसके बाद स्कूल प्रबंधन भी सकते में आ गया. हालांकि जो चित्र बना था वह गेम का शुरुआती चरण ही था. समय रहते पता चलने पर क्लास टीचर और स्कूल प्रबंधन की सजगता से बच्चे की जान बच गई.

ram janam hospital
Catalyst IAS

छात्र और अभिभावक की हो रही काउंसलिंग

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

छात्र की लगातार कांउसिलिंग की जा रही है. अभिभावकों की भी काउंसलिंग की भी जा रही है ताकि वो घरों में भी बच्चों पर नजर रख सकें.

बच्चे और युवा होते है गेम का शिकार

दरअसल, इस खेल के शिकार सबसे ज्यादा कम उम्र के युवा और बच्चे होते हैं, जिन्हें अच्छे-बुरे की समझ नहीं है. मासूम की भावनाओं से खेलकर उन्हें मौत के द्वार तक ले जाया जाता है. जहां वो अंत में अपनी जान दे देते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button