Uncategorized

दुमका : पलायन करनेवालों को डाटाबेस तैयार होगा

दुमका: दुमका के उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने कहा कि मुख्य सचिव राजबाला वर्मा के निर्देश को ध्यान में रख कर अंतर राज्यीय प्रवासी कामगारों विशेषकर महिला श्रमिकों का सर्वेक्षण कर उन्हें वापस लाना होगा तथा बाल श्रम उन्मूलन की दिशा में कारगर कार्रवाई करनी होगी। उन्होंने यह निर्देश श्रम अधीक्षक तथा परियोजना निदेशक बाल श्रमिक दुमका को दिया है। अपने पत्र में उपायुक्त ने निर्देश दिया है कि श्रमिकों विषेषकर महिला श्रमिकों के पलायन की वास्तविक स्थिति की जानकारी प्राप्त कर उनका डाटाबेस तैयार किया जाये फिर उनके परिजनों एवं ग्रामीणों के बीच इस बात की जागरुकता फैलायी जाये कि वो वापस आ जायें। वापस लौटने वाली महिला श्रमिकों की सहायता के लिए जिले में एक हेल्पडेस्क की स्थापना की जाय तथा वापस लौटने वाली महिलायें पुनः पलायन न करे इसके लिए उन्हें उनकी रुचि के अनुरुप शिक्षा, रोजगार तथा प्रशिक्षण की व्यवस्था सुनिष्चित की जाये।
उपायुक्त ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि उक्त प्रक्रिया का पालन करते हुए तैयार डाटाबेस के आधार पर लक्षित समूहों को दीर्घकालीन रणनीति के अनुसार एक समेकित पुनर्वास एवं आजीविका कार्यक्रम तैयार कर विभिन्न रोजगारोन्मुखी कार्यक्रमों तथा सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से जोड़कर नियमित रुप से एक मॉडल कार्यक्रम चलाया जाये ताकि भविष्य में कोई भी व्यक्ति राज्य के बाहर कार्य की खोज में पलायन नहीं करे तथा किसी प्रकार उनका शोषण न हो। उपायुक्त ने यह भी निर्देश दिया है कि 01 से 15 अगस्त तक आयोजित बाल श्रम उन्मूलन पखवारा कार्यक्रम के तहत चिहिृत विमुक्त किये गये बाल श्रमिकों एवं उनके परिवारों का शैक्षणिक एवं आर्थिक पुनर्वास सुनिश्चित कर इन बाल श्रमिकों के नियोक्ताओं के विरुद्ध नियमानुसार कठोरतम कानूनी कार्रवाई करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button