Uncategorized

जोकीहाट विधानसभा सीट उपचुनाव में उम्मीदवारों नहीं रिश्तेदारों के बीच टिकट के लिए घमासान

Patna : बिहार के अररिया जिले की जोकीहाट विधानसभा सीट पर उपचुनाव की सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है. गौरतलब है कि अररिया सांसद सरफराज आलम के सीट छोड़ने के बाद यह सीट खाली हुई थी. अब इस सीट के लिए उपचुनाव होना है. चुनाव में टिकट के लिए कहीं चाचा-भतीजा तो कहीं जीजा-साला के बीच घमासान मचा है.

Patna : बिहार के अररिया जिले की जोकीहाट विधानसभा सीट पर उपचुनाव की सारी तैयारियां पूरी कर ली गयी है. गौरतलब है कि अररिया सांसद सरफराज आलम के सीट छोड़ने के बाद यह सीट खाली हुई थी. अब इस सीट के लिए उपचुनाव होना है. चुनाव में टिकट के लिए कहीं चाचा-भतीजा तो कहीं जीजा-साला के बीच घमासान मचा है.

उपचुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही गुरुवार 11 बजे से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. यह 10 मई तक चलेगी. 11 मई को नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी होगी. 14 मई तक उम्मीदवार नामांकन वापस ले सकेंगे. जोकीहाट विधानसभा सीट पर 28 मई को मतदान कराया जायेगा. 31 मई को मतगणना होगी.

ram janam hospital
Catalyst IAS

नामांकन प्रक्रिया को लेकर समाहरणालय परिसर व परिसर में प्रवेश के विभिन्न रास्तों पर बैरिकेडिंग का काम बुधवार को ही पूरा कर लिया गया था. अपर समाहर्ता को जोकीहाट विधानसभा का आरओ बनाया गया है. जोकीहाट विधानसभा क्षेत्र के 331 मतदान केंद्रों पर 28 मई को वोट डाले जायेंगे. मतों की गिनती 31 मई को होगी. नामांकन को लेकर आवश्यक संख्या में पुलिस बलों की तैनाती समाहरणालय परिसर में की गई है, ताकि अनावश्यक भीड़ परिसर में दाखिल न हो.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें : बिहार के राज्यपाल का बड़ा बयान, कहा- नेताओं का बिहार में बीएड कॉलेज का बड़ा कारोबार

टिकट को लेकर जीजा-साला व चाचा-भतीजा में घमासान

जोकीहाट विधानसभा उप चुनाव में टिकट के लिए कहीं चाचा-भतीजा तो कहीं जीजा-साला के बीच घमासान मचा है. राजद से टिकट के दावेदारों में जहां पूर्व केन्द्रीय मंत्री मो. तस्लीमउद्दीन का बेटा शाहनवाज आलम व पोता आमिर फराज उर्फ गुलाब दावा ठोंक रहे हैं. वहीं जदयू के पूर्व विधायक मंजर आलम व पूर्व जिलाध्यक्ष नौशाद आलम टिकट के लिए नीतीश कुमार का चक्कर लगा रहे हैं. नौशाद आलम और मंजर आलम जीजा-साला हैं.

इसे भी पढ़ें : बिहारः तेजस्वी का सुमो से सवाल- छोटी सी दुकान से कैसे बन गये खरबों के मालिक ?

राजद से टिकट को लेकर चार लोग कर रहे दावेदारी

राजद की बात करें तो टिकट के लिए चार लोग अपवनी दावेदारी पेश कर रहे हैं. सांसद सरफराज आलम के भाई व पुत्र के अलावा 2010 में राजद से जोकीहाट विधानसभा चुनाव लड़ चुके वरिष्ठ राजद नेता अरुण यादव तथा राजद नेता सह सांसद के निकट रिश्तेदार मास्टर शब्बीर अहमद भी राजद की टिकट के लिए दावेदारी पेश कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : जीतन राम मांझी ने नीतीश पर बोला हमला, कहा- बरसाती नदी की तरह चुनाव आते ही नीतीश कुमार में दलित प्रेम उफान मारने लगता है

सांसद सरफराज आलम के लिए अग्नि परीक्षा है यह उप चुनाव

सांसद सरफराज

राजद सांसद सरफराज आलम के लिए जोकीहाट विधानसभा उपचुनाव किसी अग्नि परीक्षा से कम नहीं है. सांसद अगर बेटे को टिकट दिलाते हैं तो भाई विद्रोही हो जायेगा और भाई को टिकट दिलाते हैं तो बेटे मानने को तैयार नहीं. वहीं राजद नेता अरुण यादव और शब्बीर अहमद को टिकट नहीं मिलता है तो वे बागी उम्मीदवार के रूप में अपनी दावेदारी पेश करने को तैयार हैं. अब सांसद सरफराज आलम के लिए पारिवारिक समन्वय बनाना और पार्टी को विद्रोह से निकालना किसी अग्नी परीक्षा से कम नहीं है.

सभी बूथों पर वीवीपैट का होगा उपयोग

निर्वाचन आयोग के अनुसार इस सीट पर 01.01.2018 के वोटर लिस्ट के आधार पर ही चुनाव कराया जायेगा. सभी बूथों पर ईवीएम के साथ ही वीवीपैट का प्रयोग भी होगा. मतदाता पहचानपत्र के आधार पर ही वोट कर सकेंगे. आयोग ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर विज्ञापनों के प्रकाशन, मंत्रियों के दौरे और संबंधित चुनाव क्षेत्र में ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button