Uncategorized

जामताड़ाः मां-बेटे का कातिल 24 घंटे में गिरफ्तार, महिला के जेठ ने की थी हत्या

NEWSWING

Jamtara, 31 October : जामताड़ा पुलिस ने 24 घंटों के अंदर ही मा-बेटे हत्या कांड का खुलासा कर दिया है. वहीं उनके कातिल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. रविवार 29 अक्टूबर की देर शाम नाला थाना क्षेत्र के मोरवासा के पास तालाब के किनारे जसपुर गांव की रहने वाली कोहली मरांडी व उसके पुत्र उज्जवल मरांडी की लाश मिली थी. गला रेत कर मां और बेटा को मारा गया था. एसपी डॉ जया रॉय ने प्रेस कांफ्रेंस कर यह जानकारी दी.

advt

महिला का जेठ निकला कातिल

एसपी ने बताया कि आरोपी कोहली मरांडी का जेठ (भैंसुर) मंगल मरांडी है. उसने ही इस घटना को अंजाम दिया. मृतक उज्जवल और उसकी मां कोहली मरांडी अपने मां के घर डाबार जा रहे थे. इसी दौरान किष्टोपुर से कोहली मरांडी का जेठ आ रहा था. दोनों की मुलाकता मोरवासा के पास तालाब के किनारे हुई. आरोपी ने अपने भतिजे उज्जवल मरांडी से कहा कि हमको शौच के लिए जाना है, मुझे डर लगता है तुम भी साथ चलो. आरोपी अपने भतिजा को लेकर तालाब के दूसरे किनारे पर चला गया. उसके पीछे उज्जवल की मां भी आ गयी. तभी आरोपी ने कोहली मरांडी पर चाकू से वार करना शुरू कर दिया. अपनी मां को बचाने के लिए बेटे ने प्रयास किया तो बेटा को चाकू से गला पर प्रहार कर उसे भी मार दिया. आरोपी ने दोनों मां-बेटे को चाकू से गला काट कर हत्या कर दी. हत्यारा इतने पर भी नहीं रूका. उसने मृत महिला के गुप्तागों में बांस से लगातार प्रहार किया.

शराब बेच कर करती थी भरन-पोषण

मृतक कोहली मरांडी शराब बेच कर अपना घर चलाती थी. 29 अक्टूबर को जब वह अपने मायके जा रही थी. वो गैलन में शराब भर कर ले जा रही थी. अपराधी मंगल मरांडी ने घटना को अंजाम देने से पहले उससे शराब छीनकर पी लिया, उसके बाद घटना को अंजाम दिया.

मंगल ने क्यों दिया घटना को अंजाम

मंगल मरांडी ने इस घटना को अंजाम जमीन और आपसी रंजीश के कारण दिया. मंगल के पिता मिछिर मरांडी ने उसे अपने घर से कई वर्ष पूर्व ही निकाल दिया था. मंगल का आचरण ठीक नहीं था. इस वजह से उसे घर से निकाल दिया गया था. घर से निकाले जाने का जिम्मेवार मंगल इन दोनों मां-बेटे को मानता था. इसी गुस्से में उसने इस घटना को आंजाम दिया.

बचपन में ही उठ गया था पिता का साया

मृतक उज्जवल मरांडी जब 15 दिन का था तभी उसके पिता का देहांत हो गया था. उसके बाद से मृतक के दादा ने विधवा बहु और पोते का पालन-पोषण कर रहे थे. यह उज्जवल के चाचा को नागवार गुजरा और मां-बेटे की हत्या कर दी.

पुलिस ने कैसे किया गिरफ्तार

मां-बेटे की हत्या के बाद से पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए मंगल के पिता मिछिर मरांडी से पूछताछ करना शुरू कर दिया. इस दौरान मंगल के पिता ने बताया कि जमीन की लालच में मंगल ने ही इस घटना को अंजाम दिया होगा. उसके बाद पुलिस ने मंगल मरांडी को उसके मामा का घर कालीपहाड़ी से गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी के बाद उसने अपने अपराध को स्वीकार कर लिया. साथ ही पुलिस को बताया कि कैसे उसने घटना को अंजाम दिया. वहीं, आरोपी के पास से पुलिस ने खून लगा गमछा, बांस का टुकरा, शराब का गैलेन बरामद किया.

अनुसंधान में शामिल पदाधिकारी

इस घटना के अनुसंधान में शामिल पदाधिकारी पुलिस निरीक्षक धनंजय सिंह, थाना प्रभारी मंगल कुजूर, एएसआई महावीर उरांव शामिल है.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: