Uncategorized

जन वितरण प्रणाली में डीबीटी को तुरंत बंद करे सरकार : राशन बचाओ मंच

Ranchi : नगड़ी में जन वितरण प्रणाली में डीबीटी योजना लागू करने के खिलाफ विभिन्न राजनीतिक दल और सामाजिक संगठनों के द्वारा सामूहिक पदयात्रा 26 फरवरी को निकाला जाएगा. जनसंगठन और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के द्वारा की गयी प्रेस कांफ्रेंस में नगड़ी में राशन उठाव में हो रही परेशानियों की ओर ध्यान आकृष्ट कराया. पत्रकारों को संबोधित करते हुए कांग्रेस के प्रेम प्रकाश शाहदेव ने कहा कि नगड़ी के बैंक में आज भी नोटबंदी के बाद वाली बैंकों में लाइन देखने को मिलता है, विशेषकर बैंक ऑफ इंडिया जैसे बैंकों में. प्रखंड मुख्यालय के बैकों का लिंक फेल रहता है तो गांव का प्रज्ञा केन्द्र का हाल तो बुरा ही होगा. सरकार बीस रुपया किलो वाली अनाज को 32 रुपया में खरीद करवा रही है. डीबीटी के माध्यम से राशन में डीबीडी को तुरंत बंद करना चाहिए.

Ranchi : नगड़ी में जन वितरण प्रणाली में डीबीटी योजना लागू करने के खिलाफ विभिन्न राजनीतिक दल और सामाजिक संगठनों के द्वारा सामूहिक पदयात्रा 26 फरवरी को निकाला जाएगा. जनसंगठन और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के द्वारा की गयी प्रेस कांफ्रेंस में नगड़ी में राशन उठाव में हो रही परेशानियों की ओर ध्यान आकृष्ट कराया. पत्रकारों को संबोधित करते हुए कांग्रेस के प्रेम प्रकाश शाहदेव ने कहा कि नगड़ी के बैंक में आज भी नोटबंदी के बाद वाली बैंकों में लाइन देखने को मिलता है, विशेषकर बैंक ऑफ इंडिया जैसे बैंकों में. प्रखंड मुख्यालय के बैकों का लिंक फेल रहता है तो गांव का प्रज्ञा केन्द्र का हाल तो बुरा ही होगा. सरकार बीस रुपया किलो वाली अनाज को 32 रुपया में खरीद करवा रही है. डीबीटी के माध्यम से राशन में डीबीडी को तुरंत बंद करना चाहिए.

जेएमएम के विनोद तिर्की का कहना है कि सराकर राशन में डीबीडी लागू कर पूरे परिवार को राशन के लाइन में खड़ा कर दिया है. बैंक का चक्कर काटने के बाद लोगों को सरकारी राशन दुकान से भी लौटना पड़ता है, क्योंकि जो परिवार के सदस्य राशन लाने जाने हैं, उनका अंगूठा का मिलान नहीं होने से दूसरे को बुलाया जाता है. सीपीएम, सीपीआई एमएल के सुदामा ने कहा कि गरीबों को नगड़ी में बरगलाने का काम किया गया है. सरकार ने योजना लागू होने के पूर्व ग्रामीणों को समझाया कि आपके खाते में से पैसा निकालने वाला व्यक्ति राशन डीलर की दुकान में ही बैठेगा, जहां पैसा निकाल कर डीलर से राशन मिल जायेगा. जो अब कहीं नहीं दिखता.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें – ब्याज पर पैसे उधार लेकर राशन लाने को मजबूर हैं ग्रामीण, DBT को लेकर मन में है आक्रोश, 26 फरवरी को सामूहिक मार्च का ऐलान (देखें वीडियो)

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

इसे भी पढ़ें – डीबीटी योजना और स्थानीय नीति को लेकर माकपा का सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

ज्यादा कीमत देने के बाद भी मिल रहा कम राशन : लैला खातून

प्रेस वार्ता में डीबीटी से परेशान लैला खातून भी आयी थीं, राशन लेने में हो रही परेशानी को लेकर नाराजगी भरे लहजे में कहा कि राशन लेने में हमें बहुत परेशानी होती है. बैंक और प्रज्ञा केंद्र का चक्कर लगाने में 6 से 7 दिन समय निकल जाता है. राशन का पैसा किस खाते में आता है, इसकी जानकारी प्राप्त करने में भी पैसे खर्च करने पड़ते हैं और समय भी लगता है. सरकारी राशन लेने के लिए पहले वाली व्यवस्था लागू करनी चाहिए. बाजार से ज्यादा कीमत देकर राशन डीलर से राशन लेना पड़ रहा है, फिर भी डीलर कम अनाज देता है. 20 किलो अनाज की जगह हमें 18 किलो अनाज ही मिलता है. डीलर से कहने पर वह बोलता है कि हमें ही कम अनाज मिलता है तो हम पूरा कहां से देंगे.

इसे भी पढ़ें – क्या रघुवर दास भी दिल्ली की तरह झारखंड में भी अफसर को पीटने वाले विधायक साधुचरण महतो को गिरफ्तार करायेंगे !

डीबीटी योजना के नाम पर लूट को मिल रहा बढ़ावा : अफजल अनीश

आईपीएफ के नदीम खान ने कहा कि डीबीटी योजना सरकार को तुरंत बंद करनी चाहिए, इससे गरीब राशन लेने से वंचित हो रहे हैं और नगड़ी भुखमरी की ओर बढ़ रहा है. अफजल अनीश ने कहा कि सरकार गरीबों का हक छीन रही है. डीबीटी योजना के नाम पर लूट को बढ़ावा दिया जा रहा है. प्रेस वार्ता में झारखंड मुक्ति मोर्चा, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी एमएल, सीपीएम और कांग्रेस के प्रतिनिधि के आईपीएफ, यूनाइटेड मिली फोरम, भोजन का अधिकार अभियान झारखंड के प्रतिनिधियों ने संबोधित किया.

इसे भी पढ़ें –अब डुमरी विधायक जगरनाथ महतो ने अफसरों को धमकाया, सीओ व अंचलकर्मियों से कहा- बाल-बच्चा, नौकरी से प्यार है तो सुधर जाओ

सामूहिक पदयात्रा में शामिल पार्टी और संगठन

26 को राशन बचाओ मंच में शामिल सभी राजनीतिक और सामाजिक संगठन के द्वारा पदयात्रा 10 बजे कठाल मोड़ से मुख्यमंत्री आवास तक पदयात्रा निकाला जायेगा और मुख्यमंत्री से पुरानी व्यवस्था लागू करने के लिए ज्ञापन सौंपा जायेगा.

इसे भी पढ़ें – पीएनबी के बाद अब ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स में 389 करोड़ का घोटाला, बैंक ने कहा- नीरव की तरह सभ्य सेठ भी भागे विदेश

पदयात्रा में शामिल संगठन और पार्टी

सीपीएम, झामुमो, कांग्रेस, भाकपा(माले), झाविमो व कई सामाजिक संगठन, भोजन का अधिकार अभियान झारखंड, आदिवासी मूलवासी अस्तित्व रक्षा मंच, ऑल इण्डिया पीपल्स फोरम झारखंड, युनाइटेड मिली फोरम, ऑल इण्डिया किसान सभा, झारखंड जन संस्कृति मंच, एकता परिषद, बगाइचा, झारखंड नागरिक प्रयास मंच व अन्य संगठन शामिल है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button