Uncategorized

गुजरात चुनाव प्रचार में हार्दिक की रैलियों में उमड़ रही पीएम मोदी की सभाओं से ज्यादा भीड़

News Wing Gujrat, 05 December: गुजरात में 9 दिसंबर को होने वाले पहले चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार जोरों पर है. चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी ताकत झोंक दी है. वहीं हार्दिक पटेल जोरशोर से चुनाव प्रचार कर रहे हैं. रैलियां पर रैलियां और सभाओं पर सभाओं का दौर दोनों तरफ से जारी है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों में भीड़ कम दिख रही है. वहीं हार्दिक पटेल की रैलियों में काफी भीड़ दिख रही है.

यह भी पढ़ें : हार्दिक पटेल का ट्विटर से पीएम मोदी पर हमला, लिखाः जो निभा ना सका पत्नी से, दूसरों की CD बनवाएगा

हार्दिक की रैलियों में पैसे खर्च कर आ रहे लोग, भाजपा को बुलानी पड़ रही भीड़

ram janam hospital
Catalyst IAS

बीबीसी की खबर के मुताबिक तीन दिसंबर को प्रधानमंत्री मोदी की राजकोट में रैली हुई थी, जो मुख्यमंत्री विजय रूपानी का गृह ज़िला है. लेकिन रैली में उतने लोग नहीं आए जितने पिछले हफ़्ते हार्दिक पटेल की रैली में पहुंचे थे. बीबीसी के मुताबिक हार्दिक की रैली में आने वाले अपना पैसा खर्च करके उन्हें सुनने आ रहे हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी को लोगों को आने-जाने की सुविधा देनी पड़ रही है ताकि लोग प्रधानमंत्री मोदी की रैली में आ सकें.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

यह भी पढ़ें : हार्दिक ने गुजरात में कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा की

किसानों और युवाओं के मुद्दे पर बात कर रहे हार्दिक

जानकार बताते हैं कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हार्दिक उन मुद्दों पर बात करते हैं जिनसे लोगों का सीधा सरोकार है. वरिष्ठ पत्रकार दर्शन देसाई के मुताबिक हार्दिक किसानों की परेशानी और बेरोज़गारी जैसे मुद्दों पर बात कर रहे हैं, जिनसे गांव के युवाओं का सीधा जुड़ाव है. वहीं प्रधानमंत्री मोदी में लोगों की दिलचस्पी ख़त्म हो रही है. एक मौक़े पर तो मोदी को दक्षिण गुजरात में अपनी रैली की जगह भी बदलनी पड़ी.

यह भी पढ़ें : मंडल कमीशन की सिफारिशें पूरे देश में लागू हो : हार्दिक पटेल

हार्दिक की रैली में सड़क पर खड़े होने की नहीं थी जगह, पीएम की रैली में कुर्सियां थी खाली

रविवार को हार्दिक पटेल ने सूरत में एक बड़ा रोड शो किया जिसमें छह विधानसभा चुनाव क्षेत्र का दौरा किया और उसके बाद सूरत के किरण चौक में एक रैली की. सूरत के वरिष्ठ पत्रकार फ़ैसल बकीली ने बीबीसी को बताया कि, ”हार्दिक का यह रोड शो 25 किलोमीटर लंबा था, जिसके बाद उन्होंने सूरत में एक रैली की. ऐसा पहले किसी ने नहीं किया था. सड़क पर खड़े होने की जगह भी नहीं थी. ‘और उसी दिन मोदी ने भी भरूच में एक रैली की जिसमें कुर्सियां खाली पड़ी थीं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button