Uncategorized

कश्मीर में चार आतंकवादी हमलों में 20 मरे

श्रीनगर : जम्मू एवं कश्मीर में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रस्तावित यात्रा से दो दिन पहले शुक्रवार को आतंकवादियों ने कई हमलों को अंजाम दिया, जिसमें 20 लोग मारे गए। हमले के दौरान आठ सैनिक भी शहीद हुए हैं, जबकि 11 घायल हैं। भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों ने एक सैन्य शिविर तथा पुलिस चौकी पर हमले किए। इसके अलावा, तीन जगहों पर सुरक्षाकर्मियों के दलों पर ग्रेनेड से हमले किए।

श्रीनगर में सोमवार को मोदी एक चुनावी जनसभा को संबोधित करने वाले हैं। राज्य में पांच चरणों के तहत विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। अगले चरण के मतदान के चार दिन पूर्व यह हमला हुआ है। मतदान नौ दिसंबर को होना है।

advt

मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि शुक्रवार को हुए आतंकवादी हमले से यह बात सामने आती है कि हताश आतंकवादी शांति तथा सामान्य स्थिति को बाधित करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

उन्होंने आज के दिन को भयानक दिन की संज्ञा देते हुए एक ट्वीट में कहा, “चार हमले और कई लोगों की मौत। घाटी में आज सुरक्षा बल तथा निर्दोष नागरिक मारे गए।”

जम्मू एवं कश्मीर के बारामूला जिले में आतंकवादियों ने सेना के एक शिविर पर हमला कर दिया। हमले के बाद आतंकवादियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच हुई मुठभेड़ में सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी सहित आठ सैनिक तथा तीन पुलिसकर्मी शहीद हो गए। इस दौरान सभी छह आतंकवादी भी मारे गए।

एक अधिकारी ने कहा कि आतंकवादियों ने सीमांत उरी कस्बे के निकट मोहरा स्थित सेना के एक शिविर पर तड़के हमला किया। शहीद होने वालों में लेफ्टिनेंट कर्नल संकल्प कुमार तथा एक जूनियर कमीशंड अधिकारी शामिल है।

हथियारबंद आतंकवादियों का समूह तड़के तीन बजे शिविर के निकट पहुंचा। लेकिन सैन्य शिविर के मुख्य द्वार पर उन्हें सेना के कड़े प्रतिरोध का सामना करना पड़ा।

ड्यूटी पर तैनात जवानों ने गोलीबारी की आवाज सुनकर उन्हें ललकारा। सभी आतंकवादी स्वचालित हथियारों तथा हथगोलों से लैस थे।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमले के दौरान एक लेफ्टिनेंट कर्नल तथा एक कनिष्ठ अधिकारी सहित आठ जवान शहीद हो गए।

सैन्य शिविर में आतंकवादियों के घुसने को लेकर अलग-अलग बयान सामने आ रहे हैं। एक अधिकारी ने कहा कि उन्होंने प्रवेश किया था, लेकिन उन्हें प्रतिरोध का सामना करना पड़ा, जबकि एक अन्य अधिकारी ने कहा कि मुठभेड़ मुख्य द्वार पर ही हुई है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि मुठभेड़ अब समाप्त हो चुकी है।

पुलिस अधिकारी ने कहा, “जानकारी मिलने के बाद त्वरित प्रतिक्रिया दल (क्यूआरटी) घटनास्थल पर पहुंचा ही था कि आतंकवादियों ने मुख्य सड़क पर ही क्यूआरटी के एक वाहन पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें एक अधिकारी तथा दो सैनिक शहीद हो गए।”

उन्होंने कहा कि सैनिकों ने आतंकवादियों को शिविर के बाहर ही मार गिराया।

मारे गए सभी छह आतंकवादियों के शव बरामद कर लिए गए हैं।

यहां तक कि जब उरी में मुठभेड़ खत्म होने के कगार पर थी, तो श्रीनगर में एक पुलिस चौकी पर आतंकवादी हमले की खबर आई।

सौरा इलाके में आतंकवादियों ने एक पुलिस चौकी पर हमला कर दिया।

इस दौरान एक आतंकवादी मारा गया, जबकि दूसरा एक घर में छिप गया, लेकिन मुठभेड़ के दौरान मारा गया।

तीसरा आतंकवादी हमला दक्षिणी कश्मीर के त्राल कस्बे में हुआ, जहां आतंकवादियों के ग्रेनेड हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि 11 अन्य घायल हो गए।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “आतंकवादियों ने त्राल कस्बे में आज (शुक्रवार) दोपहर सुरक्षाबलों के एक दल पर ग्रेनेड फेंक दिया। वह सड़क पर फट गया। इस घटना में 12 नागरिक घायल हो गए, जिनमें से एक व्यक्ति की मौत हो गई।”

एक अधिकारी ने कहा कि गंभीर रूप से घायल तीन लोगों को श्रीनगर भेज दिया गया है।

चौथे हमले के बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल पाई है। यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि शोपियां के एक पुलिस थाने में ग्रेनेड विस्फोट हुआ है या नहीं, क्योंकि पुलिस स्मोक ग्रेनेड फटने की बात कर रही है। आईएएनएस

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: