Uncategorized

कर्नाटकः कल शाम चार बजे येदियुरप्पा सरकार साबित करें बहुमत, सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

NewDelhi: कर्नाटक में बीजेपी को सरकार बनाने के लिए न्यौता देने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती दिये जानेवाले याचिका पर सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में शुरु हो गयी है. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट की ओर से सुझाव दिया गया कि क्यों ना फ्लोर टेस्ट शानिवार को ही करा लिया जाये, ताकि किसी भी दल को समय नहीं मिलेगा. इससे पहले येदियुरप्पा की ओर से वकील मुकुल रोहतगी ने राज्यपाल को दिए गए येदियुरप्पा को पत्रों को कोर्ट में पढ़कर सुनाया. मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला दिया है अब येदियुरप्पा को शनिवार शाम 4 बजे अपना बहुमत साबित करना होगा.

इसे भी पढ़ेंःजेडीएस, कांग्रेस के नव निर्वाचित विधायक सियासी उठापटक के बीच बेंगलुरू से हैदराबाद पहुंचे

कल शाम चार बजे हो फ्लोर टेस्ट-SC

Catalyst IAS
ram janam hospital

मामले की सुनवाई शुरु होते ही बीजेपी की ओर से वकील मुकुल रोहतगी ने येदियुरप्पा की ओर से राज्यपाल को भेजे गए दोनों पत्र सुप्रीम कोर्ट में पेश किए और दलील दी कि बीजेपी राज्य में सबसे बड़ी पार्टी है. रोहतगी ने कांग्रेस और जेडीएस को अपवित्र बताया है. उन्होंने कहा कि नंबर दो और नंबर तीन पार्टियां बीजेपी से काफी पीछे हैं. सुनवाई के दौरान जस्टिस सीकरी ने सवाल उठाते हुए पूछा कि अगर दो पार्टियां अपने-अपने दावे कर रही हैं, तो गवर्नर ने किस आधार पर फैसला किया. इस पर बीजेपी के वकील ने कहा कि ये राज्यपाल का विशेषाधिकार है. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने प्रस्ताव देते हुए कहा कि बेहतर होगा कि शनिवार को बहुमत परीक्षण हो. सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार शाम 4 बजे फ्लोर टेस्ट कराने का फैसला सुनाया है.

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

हम कल फ्लोर टेस्ट को तैयार- सिंघवी

कांग्रेस की तरफ से बहस कर रहे मनु सिंघवी ने कहा कि कांग्रेस कल फ्लोर टेस्ट कराने को तैयार है. अपना पक्ष रखते हुए सिंघवी बोले- येदियुरप्पा ने कहा कि हमारे साथ अलां फलां विधायक हैं, लेकिन ABC कौन-कौन साथ हैं. दूसरी ओर कांग्रेस-जेडीएस ने सभी 117 के नाम लिख कर राज्यपाल को दिए. मनु सिंघवी ने फ्लोर टेस्ट की वीडियोग्राफी कराये जाने की भी बात कही. वही कपिल सिब्बल का कहना है कि जेडीएस भी चाहती है कि जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट हो.

इसे भी पढ़ेंःगोवा पहुंची कर्नाटक की जंग, बड़ी पार्टी होने के नाते हमें मिले मौका-कांग्रेस

हालांकि बहुमत साबित करने के लिए बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने सोमवार तक का समय मांगा था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इसे नामंजूर कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने माना कि जितना ज्यादा समय बहुमत साबित करने को लेकर दिया जायेगा, विधायकों की खरीद फरोख्त की संभावना उतनी बढ़ जायेगी. कांग्रेस-जेडीएस ने इस फैसले का स्वागत किया है.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button