Uncategorized

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 50,000 विद्यार्थियों का पंजीकरण किया रद्द

Allahabad : उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने फरवरी, 2018 में होने वाली हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट परीक्षाओं के लिए पंजीकरण करा चुके करीब 50,000 विद्यार्थियों का पंजीकरण रद्द कर दिया है. प्राइवेट अभ्यर्थी के तौर पर पंजीकरण कराने वाले इन विद्यार्थियों के दस्तावेज जांच में फर्जी पाए गए. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि करीब 50,000 विद्यार्थियों के दस्तावेज जांच में फर्जी पाए गए. इनमें सबसे अधिक लगभग 18,000 विद्यार्थी मेरठ क्षेत्र से हैं. वहीं वाराणसी क्षेत्र से करीब 12,000, इलाहाबाद क्षेत्र से लगभग 11,000 और गोरखपुर क्षेत्र से करीब 10,000 विद्यार्थी हैं जिनके दस्तावेज फर्जी पाए गए.

प्राइवेट उम्मीदवार के तौर पर करीब 2,50,000 विद्यार्थियों ने कराया है पंजीकरण

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद अपने पांच क्षेत्रीय कार्यालयों- इलाहाबाद, वाराणसी, गोरखपुर, मेरठ और बरेली के जरिए हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं के लिए पंजीकरण करता है, जबकि फरवरी, 2018 में होने वाली इन परीक्षाओं के लिए प्राइवेट उम्मीदवार के तौर पर करीब 2,50,000 विद्यार्थियों ने अपना पंजीकरण कराया है. श्रीवास्तव ने बताया कि बोर्ड स्कूलों के उन प्रधानाचार्यों के खिलाफ कार्रवाई करेगा जिन्होंने दस्तावेज अपलोड करने के दौरान लापरवाही बरती है. साथ ही बोर्ड, जिला विद्यालय निरीक्षकों से भी जवाब तलब करेगा. यदि इनके स्तरों पर सावधानी बरती जाती, तो इतने बड़े पैमाने पर पंजीकरण निरस्त करने की नौबत नहीं आती.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें: 2017 की शुरुआत ‘जूता-चप्पल’ से और विदाई ‘अपशब्द और चुंबन प्रतियोगिता’ से

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

सत्यापन की प्रक्रिया अभी जारी है और पंजीकरण रद्द करने की कार्रवाई आगे भी चल सकती है : नीना श्रीवास्तव

उन्होंने कहा कि सत्यापन की प्रक्रिया अभी जारी है और पंजीकरण रद्द करने की कार्रवाई आगे भी चल सकती है. जांच में पाया गया कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं के लिए प्राइवेट कैंडीडेट के तौर पर पंजीकरण कराने वाले इन विद्यार्थियों ने पिछली कक्षा के फर्जी दस्तावेज अपलोड किए. सचिव ने बताया कि संपूर्ण पंजीकरण प्रक्रिया आनलाईन होने से जांच में सहूलियत मिली है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button