न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

हजारीबाग : महुदी गांव में झंडा पार कराने के दौरान प्रशासन ने बजरंग दल के संयोजक संजय चौबे समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं को किया गिरफ्तार, धारा 144 लागू

68

Barkagaon : महुदी गांव में रामनवमी जुलूस पिछले 35 वर्षों से बंद है. रविवार को महुदी गांव में रामनवमी जुलूस पार कराने के लिए हजारों ग्रामीण, बजरंग दल संयोजक संजय चौबे के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं की भीड़ जुटी थी, प्रशासन ने सतर्कता बरतते हुये बजरंग दल संयोजक संजय चौबे समेत कई कार्यकर्ताओं गिरफ्तार कर लिया. भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने लाठी भांजी, हवाई फायरिंग समेत आंशु गैस के गोले भी दागे. रविवार को दिन भर बड़कागांव क्षेत्र में बजरंग दल के नेतृत्व में जय श्री राम, हर हर महादेव, जय वीर बजरंगी के जयकारों से गूंजता रहा.

गौरतलब है कि हजारीबाग जिले के बड़कागांव थाना अंतर्गत महुदी गांव में रामनवमी जुलूस मार्ग 1983 से लगभग से बंद है. रविवार को महुदी गांव से झंडा पार कराने के लिए हजारों ग्रामीण जुटे थे. हजारीबाग जिला प्रशासन ने रामलला के झंडे को पार कराने आए ग्रामीणों को पीटा. पुलिस की बर्बरता से ग्रामीणों में आक्रोश है. प्रशासन द्वारा महुदी गांव में विवादित मार्ग पर बैरियर लगाते हुए धारा 144 लागू कर दी गयी है.

इसे भी पढ़ें :  पार्क पड़तालः रांची की खूबसूरती पर दाग बने शहर के पार्क, टूटी दीवार, फैली गंदगी और मॉडर्नाइजेशन के नाम पर अश्लीलता  

अंतर्राष्ट्रीय कथा वाचक दीदी साध्वी सरस्वती जी के महुदी गांव जाने की सूचना पर प्रशासन सतर्क

arrestअंतर्राष्ट्रीय कथा वाचक दीदी साध्वी सरस्वती जी महुदी गांव में प्रवेश नहीं कर सकें, इसको लेकर प्रशासन द्वारा बड़कागांव के सभी मार्गों को सील कर वाहनों की चेकिंग की जा रही है. प्रशासन द्वारा हजारीबाग पथ, बादम पथ, जोराकाट पथ, उरीमारी पथ, टंडवा पथ, हिन्दीगिर पथ पर बैरियर लगाकर लगातार चेकिंग कर रही है. वहीं प्रशासन द्वारा महुदी गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है. महुदी गांव की जनसंख्या से अधिक पुलिस बल तैनात किया गया है. बजरंग दल के सैंकड़ों सदस्य महुदी गांव के विपरीत छोर पर महुदी गांव प्रवेश करने के लिए उतारू थे, जहां प्रशासन द्वारा उन्हें गिरफ्तार कर हजारीबाग कैंप जेल ले जाया गया.

ज्ञात हो कि बजरंग दल द्वारा पूर्व में घोषित महुदी मार्ग में बड़े ही शांति के साथ रामलला के झंडे को पार करवाने का काम आयोजित किया गया था. जिसको पार कराने के दौरान प्रशासन ने वहां से झंडा पार कराने पर रोक लगा दी और सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया. अंतर्राष्ट्रीय कथावाचक दीदी साध्वी सरस्वती की भी गिरफ्तारी की सूचना आ रही है, मगर प्रशासन ने गिरफ्तार कर उन्हें कहां रखा है इसकी जानकारी नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

                

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: