न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण 2018 के लिए रांची नगर निगम हुई रेस, बेहतर रैंकिंग के लिए कईयों पर कसा शिकंजा

42

Ranchi : स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण 2018 में देश के 4000 से ज्‍यादा शहरों के द्वारा हिस्‍सा लिया जा रहा है. 4 जनवरी 2018 से शुरू होने वाली इस सर्वेक्षण में रांची शहर को बेहतर रैंकिंग के लिए रांची नगर निगम ने पूरा दम-खम लगा दिया है. इसके लिए निगम ने कई स्‍तर पर व्‍यापक कार्यक्रम चलाये हुए है और अपनी कमियों को भी दुरूस्‍त कर रहा है.

दो पेट्रोल पंपों पर कार्रवाई के लिए भेजा नोटिस

रांची नगर निगम के नगर आयुक्‍त शांतनु अग्रहरी ने बताया सभी पेट्रो पंप में शौचालय की उपलब्‍धता अनिवार्य कर दी गयी है. लालपुर पेट्रोल पंप और महामाया पेट्रोल पंप में शौचालय नहीं पाये जाने के कारण कार्रवाई के लिए नोटिस भेजा गया है. नगर आयुक्‍त ने बताया कि रांची में इंफोर्समेंट टीम द्वारा खुले में पेशाब करने पर 18 हजार रूपये और खुले में शौच करने पर 8 हजार रूपये जुर्माना किया गया है.

उन्‍होंने बताया कि स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण में 4000 प्रतियोगी शहरों में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए पूरे शहर में 31 हजार 678 शौचालयों का निर्माण किया गया है. साथ ही 60 सामुदायिक और 29 सार्वजनिक शौचालयों का संचालन किया जा रहा है. इन सभी सामुदायिक और सार्वजनिक शौचालयों को गूगल टॉयलेट लोकेटर और सिटीजन फीडबैक सिस्‍टम से जोड़ा गया है. शांतनु अग्रहरी ने बताया कि स्‍वच्‍छता जागरूकता के लिए शहर में 25 नुक्‍कड़ नाटकों का आयोजन किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः सीएम रघुवर पर सदन में गाली देने का आरोप, हेमंत ने कहा माफी मांगें सीएम, जेएमएम ने फूंका पुतला

सभी मैरिज हॉल, लॉज और होटलों के लिए Bulk Generator लगाना अनिवार्य

नगर आयुक्‍त ने बताया कि रांची नगर निगम क्षेत्र में स्थित वैसे सभी होटलों, मैरिज हॉल और लॉज के लिए Bulk Generator लगाना अनिवार्य कर दिया गया है, जहां से एक बार में 100 किलो कचरा निकलता है. Bulk Generator लगाने के लिए 25 दिसंबर तक का समय दिया गया है. जो लोग नहीं लगायेंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. उन्‍होंने बताया कि पार्कों में पिट कंपोस्टिंग की जायेगी.

पोलीप्रोपलीन बैग इस्‍तेमाल पर शुरू होगी धर-पकड़, पकड़े जाने पर होगा जुर्माना

प्‍लास्टिक बैन के बाद पोलीप्रोपलीन बैग प्रचलन में आया. नगर आयुक्‍त ने बताया कि पोलीप्रोपलीन बैग भी प्‍लास्टिक की तरह खतरनाक है और इस पर भी रोक है. बावजूद इसके बाजार में पोलीप्रोपलीन बैग का धड़ल्‍ले से इस्‍तेमाल हो रहा है और इसके एवज में 2 से 5 रुपये वसूले जा रहे हैं. पोलीप्रोपलीन बैग इस्‍तेमाल के खिलाफ जल्‍द अभियान चलेगी. इसका इस्‍तेमाल करने वालों और व्‍यवसाय करने वाले पकड़े जाने पर एक लाख जुर्माना और एक साल की सजा भी जो सकती है.

इसे भी पढ़ेंः देखिये-सुनिये सीएम रघुवर दास ने सदन में विपक्षी विधायकों को कौन सी गाली दी

जागरूकता के लिए चलाया जा रहा विशेष अभियान

स्‍वच्‍छता सर्वेक्षण की जागरूकता के लिए रांची नगर निगम खास अभियान चला रही है. नगर आयुक्‍त ने बताया कि जागरूकता के लिए होर्डिंग्‍स और स्‍टीकर्स लगये जा रहे हैं. नगर निगम के एनयूएलएम सेक्‍शन द्वारा स्‍चच्‍छता ऐप डाउनलोड करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है. इस क्रम में रेलवे, सरकारी विभागों, स्‍कूलों, कॉलेजों, एचईसी, सीसीएल, सीएमपीडीआई, रिम्‍स, हाउसिंग सोसाइटी को सहयोग के लिए पत्र लिख चुका है. अब तक रांची नगर निगम क्षेत्र में 20 हजार से ज्‍यादा स्‍वच्‍छता ऐप डाउनलोड किये जा चुके हैं.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-01ः सीआईडी ने न तथ्यों की जांच की, न मृतकों के परिजन व घटना के समय पदस्थापित पुलिस अफसरों का बयान दर्ज किया

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-02ः-चौकीदार ने तौलिया में लगाया खून, डीएसपी कार्यालय में हुई हथियार की मरम्मती !

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-03- चालक एजाज की पहचान पॉकेट में मिले ड्राइविंग लाइसेंस से हुई थी, लाइसेंस की बरामदगी दिखाई ईंट-भट्ठे से

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: