न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्टार्टअप और नये आविष्कार की दिशा सही होनी चाहिए : सरयू राय

27

NEWSWING

Ranchi, 01 December : संसदीय कार्य, खाद्य आपूर्ति एवं सार्वजनिक वितरण मामले के मंत्री सरयू राय ने कहा कि नये बदलाव, नवीन चिंतन, नयी चुनौतियां हैं, उसमें हम सब लगे हुए हैं. समय बदल रहा है, क्यों बदल रहा है, हम सब क्यों स्टार्ट अप और इनोवेशन पर बात कर रहे हैं. यह वक्त की जरूरत है. इसमें इस बात का भी ध्यान रखना आवश्यक है कि यह स्टार्टअप और इनोवेशन सही दिशा में हो. हम जिस तरह सोच रहे हैं, जिस ओर जा रहे हैं वह अगर मानवीय रूप में कामयाब रहा तो बहुत अच्छी बात है. उन्होंने कहा कि यह अच्छाई देश, राज्य, समाज और खुद के हित में दिख रहा है या नहीं इस बात का ध्यान रखना भी आवश्यक है. श्री राय शुक्रवार को होटल बीएनआर चाणक्य में स्टार्टअप्स और इनोवेशन पर आयोजित कॉन्क्लेव “स्टार्ट ओवेशन” में बोल रहे थे.

यह भी पढ़ें : विकास के आंकड़े धोखा देते हैंः सरयू राय

युवा वर्ग स्टार्टअप और इनोवेशन के जरिए बहुत कुछ कर सकते हैं

उन्होंने कहा कि तकनीक ने हम सब को बदलने पर विवश किया है. निजी क्षेत्र में अधिक बदलाव दिखा है. विज्ञान और तकनीक ने नये आयाम दिए हैं. हम सबको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि हम जो कर रहे हैं, वह समाज हित में कितना उपयोगी साबित होगा. एग्रीकल्चर तथा इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भी काम करने की जरूरत है. राज्य सरकार को भी इस क्षेत्र में अपनी सीमा के भीतर सहयोग करने की इच्छा है. युवा वर्ग स्टार्टअप और इनोवेशन के जरिए बहुत कुछ कर सकते हैं. उन्हें इस बात का ध्यान रखना होगा कि यह कार्य सकारात्मक ढंग से हो ताकि बदल रहे इस समय में वह सफलता की नई कहानी व उदाहरण पेश कर सकें. जिससे अन्य को भी प्रेरणा मिले और वह भी इस दिशा में अग्रसर हों.

यह भी पढ़ें : झारखंड PRD कुछ खास विभागों व लोगों के लिए है या सभी के लिए, खाद्य आपूर्ति विभाग का कवरेज क्यों नहीं : सरयू राय

युवाओं की सफलता से राज्य की सफलता

कार्यक्रम में मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने इस अवसर पर कहा कि स्पष्ट दृष्टिकोण, सकारात्मक सोच, सुधार और फलदायी नीतियां ने से झारखंड में एक माहौल तैयार किया है. यह राज्य सरकार की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है. झारखंड युवा राज्य है, यहां युवाओं का दिमाग चलता है. यह युवाओं का समय है. राज्य सरकार ऐसे युवाओं को परिस्थिति और अवसर प्रदान कर रही है. अगर युवा एक कदम चलते हैं तो राज्य सरकार उनके साथ चार कदम चलेगी. युवा सपना देखें. यह आपको उत्साह और नयी ऊंचाइयां प्रदान करेगा. आपकी सफलता आपका इंतजार कर रही है क्योंकि आपकी सफलता में ही झारखंड की सफलता निहित है.

यह भी पढ़ें : खाद्य आपूर्ति विभाग के ट्रांस्पोटेशन में लगा जीपीएस सिस्टम फेल, एक महीने में दुरुस्त कराएंः सरयू राय

दो वर्ष में बनी है 10 नीति

विगत दो-तीन साल में राज्य के विकास और लोगों की समृद्धि हेतु 10 नीतियां बनायी गयी ताकि उद्योग लगाने वाले और अन्य क्षेत्र में कार्य करने वालों को सुगमता प्रदान किया जा सके. आने वाले दिनों में टेक्सटाइल हब बनने की ओर झारखंड अग्रसर है, जिससे रोजगार का सृजन होगा. स्टार्टअप हेतु नीति तैयार की जा रही है जल्द राज्य सरकार इसे सामने लाएगी. पूर्व से बनी नीतियां अब परिणाम दे रही हैं. मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कुशल झारखंड, रोजगार से आच्छादित झारखंड के निर्माण के लिए कार्य हो रहा है. शिक्षा खासकर तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में कार्य हुए हैं. रक्षा यूनिवर्सिटी इसका एक उदाहरण है, इसके अलावा पॉलिटेक्निक कॉलेज समेत 48 नए कॉलेजों की स्थापना की प्रक्रिया प्रारंभ है. राज्य के  युवाओं को कुशल व हुनरमंद बनाने के लिए सिंगापुर से प्रशिक्षण देने प्रशिक्षक 2018 में आएंगे. ताकि यहां के युवाओं को शिक्षा के साथ साथ समय की मांग के अनुरूप कुशलता प्रदान की जा सके.

यह भी पढ़ें : रांची में 150 करोड़ खर्च कर जहां बनी थीं नालियां, सबसे ज्यादा जल जमाव वहीं, कहीं ट्रैफिक सिस्टम का भी ना हो वही हाल : सरयू राय

बोकारो में होगा तीसरा फाउंडेशन स्टोन सेरेमनी का आयोजन

राज्य में निवेश का माहौल बना है. इस निवेश के माहौल को और मजबूती प्रदान करने की दिशा में लगातार कार्य हो रहा है. रोजगार सृजन और स्वरोजगार राज्य के लोगों को प्रदान करना सरकार की प्राथमिकताओं में है. युवा भी इस बात का ध्यान रखें कि वह रोजगार देने वाले बनें, न कि रोजगार पाने वाले. दिसंबर माह में मोमेंटम झारखंड के तहत बोकारो में तीसरा फाउंडेशन स्टोन सेरेमनी का आयोजन होगा और कई उद्योगों की स्थापना के लिए आधारशिला रखी जाएगी. यह राज्य के विकास और लोगों को रोजगार प्रदान करने की दिशा में एक और कदम साबित होगा.

यह भी पढ़ें : शराब दुकानें बंद कराने के लिए सरयू ने लिखा पत्र

ये थे शामिल

कार्यक्रम में इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स झारखंड काउंसिल के चेयरमैन शैलेश वर्मा, शोभित यूनिवर्सिटी मेरठ के चांसलर कुंवर शेखर विजेंद्र, सूचना प्रौद्योगिकी एवं ई-गवर्नेस विभाग के निदेशक उमेश शाह समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: