न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सांप्रदायिक दंगों पर दोहरा मापदंड अपना रही मोदी सरकार : मायावती

37

Lucknow : बसपा सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि बिना उचित सरकारी अनुमति के अवैध यात्रा और हथियारबंद प्रदर्शन को भाजपा नेताओं ने नया फैशन बना लिया है. मायावती ने एक बयान में कहा कि बिना उचित सरकारी अनुमति के अवैध यात्रा और हथियारबंद प्रदर्शन को भाजपा नेताओं ने नया फैशन बना लिया है, जो सर्वथा अनुचित एवं गैर-कानूनी है. उत्तर प्रदेश के कासगंज में भी इसी कारण साम्प्रदायिक दंगा भड़काया गया था.उन्होंने कहा कि ऐसे ही बिहार और पश्चिम बंगाल में हुये मामलों में केन्द्र सरकार द्वारा अपनाया जा रहा दोहरा मापदण्ड दुखद एवं निन्दनीय है.

केन्द्र  अपना रही दोहरी नीति

बिहार और पश्चिम बंगाल में हाल में हुए दंगों को लेकर बसपा सुप्रीमो ने भाजपा को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में बिहार व पश्चिम बंगाल के विरूद्ध दोहरा मापदण्ड अपनाया जा रहा है क्योंकि बिहार में भाजपा गठबंधन की सरकार है. जबकि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल सरकार है. सरकार चाहे किसी भी पार्टी की हो, उसे कानून से खिलवाड़ करने की इजाजत किसी को भी नहीं देनी चाहिये.

इसे भी पढ़ें:6 लाख रुपया है विधानसभा अध्यक्ष के बंगले का सालाना बिल, तीन साल से नहीं भरा, बढ़कर  बिल हुआ 17.22 लाख रुपया

उन्होंने कहा कि शान्ति एवं कानून-व्यवस्था को खराब करने वाली ऐसी गैर-कानूनी हरकतों को रोकने के बजाय भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार दोहरा मापदण्ड अपना कर इसे बढ़ावा देने का गलत प्रयास कर रही है. बिना पूर्व अनुमति के और वह भी हथियार लहराते हुये प्रदर्शन एवं यात्रा निकालकर दंगा फैलाने वालों के प्रति सख्त कानूनी कार्रवाई करने का आदेश पुलिस विभाग को देने को उचित ठहराते हुये उन्होंने कहा कि ऐसी कानूनी कार्रवाई करने पर बंगाल सरकार को कठघरे में खड़ा करने की केन्द्र सरकार की साजिश निन्दनीय है, जबकि बिहार में ऐसे ही मामले में भाजपा के केन्द्रीय मंत्री के पुत्र को वहाँ की सरकार बचाने का काम कर रही है और उसकी गिरफ्तारी से बच रही है.

इसे भी पढ़ें:संसद से सचिन-रेखा की विदाई, 6 सालों में रेखा ने नहीं पूछा एक भी सवाल

मायावती ने कहा, ‘इतना ही नहीं बल्कि भाजपा और केन्द्र सरकार बिहार के मामले में लीपा-पोती में लगी है और चिन्ता-मुक्त बनी हुई है. केन्द्र सरकार का कानून-व्यवस्था, अमन-चैन एवं सौहार्द के मामले में ऐसा दोहरा मापदण्ड क्यों ?’ उन्होंने कहा, ‘बिना उचित कानूनी अनुमति के तिरंगा यात्रा निकालने से उत्तर प्रदेश के कासगंज में साम्प्रदायिक दंगा भड़की थी और योगी सरकार के दामन पर भी दंगे के दाग लग गये थे.मायावती ने कहा कि सरकार चाहे किसी की भी हो, कानून से खिलवाड़ करने की इजाजत किसी को भी नहीं दी जानी चाहिये.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: