Uncategorized

सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने 130 से अधिक दिनाकरण समर्थकों को किया पार्टी से निष्कासित

Chennai : तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने विद्रोही टीटीवी दिनाकरण खेमे के खिलाफ कार्रवाई जारी रखते हुए 130 से अधिक पदाधिकारियों को पार्टी को ‘‘बदनाम’’ करने के कारण शुक्रवार को निष्कासित कर दिया. पार्टी समन्वयक ओ पनीरसेल्वम और सह समन्वयक के पलानीस्वामी ने तिरुपुर, पुदुकोट्टई और धर्मपुरी में पार्टी की जिला इकाइयों से 132 लोगों को ‘‘निष्कासित’’ किए जाने की घोषणा की.

तिरुपुर से 65 लोगों को किया गया निष्कासित

पार्टी के कुल 132 पदाधिकारियों को निष्कासित किया गया है. तिरुपुर से सर्वाधिक 65 लोगों को निष्कासित किया गया. दोनों नेताओं ने एक बयान में कहा कि पुदुकोट्टई से 49 और धर्मपुरी इकाई से 18 लोगों को निकाला जा रहा है क्योंकि वे पार्टी सिद्धांतों के खिलाफ गए और उन्होंने अन्नाद्रमुक को ‘‘बदनाम’’ किया. बयान में कहा गया कि पार्टी कार्यकर्ताओं से अनुरोध है कि वे उनसे कोई संबंध नहीं रखे. पनीरसेल्वम और पलानीस्वामी ने धर्मपुरी में उनके पार्टी पद से एक व्यक्ति को ‘‘मुक्त’’ कर दिया.

इसे भी पढ़ें: अखाड़ा परिषद ने जारी की फर्जी बाबाओं की दूसरी सूची, वीरेंद्र दीक्षित, सचिदानंद सरस्वती और त्रिकाल भवंता हैं लिस्ट में शामिल

नगर उपचुनाव में मधुसूधनन को 40,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया था दिनाकरण ने

उपचुनाव में हार से बौखलाई सत्तारूढ अन्नाद्रमुक ने पार्टी के नौ पदाधिकारियों के खिलाफ 25 दिसंबर को कार्रवाई करते हुए दिनाकरण के चार सहयोगियों को बर्खास्त कर दिया था और पांच अन्य को निष्कासित कर दिया था. पार्टी के दोनों नेताओं ने पार्टी के साथ ‘‘विश्वासघात’’ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की चेतावनी दी थी और कल 44 लोगों को निष्कासित कर दिया था. दिनाकरण ने सत्तारूढ खेमे को झटका देते हुए 21 दिसंबर को हुए आर के नगर उपचुनाव में उसके उम्मीदवार ई मधुसूधनन को 40,000 से अधिक मतों से अंतर से हराया था. पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता के निधन के कारण इस सीट पर चुनाव कराना अनिवार्य हो गया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button