Uncategorized

शासन-प्रशासन की लूटकारी नीति के खिलाफ कांग्रेस का धरना, बोले केएन त्रिपाठी : मनरेगा की उड़ रही धज्जियां

Palamu: शासन-प्रशासन की लूट-खसोट की नीति के खिलाफ कांग्रेस ने पलामू के छहमुहान चौक पर धरना दिया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने कहा कि राज्य में शासन और प्रशासन की लूट-खसोट नीति के कारण मनरेगा की धज्जियां उड़ायी जा रही है. यूपीए की पूर्ववर्ती सरकार ने गांव के विकास और मजदूरों को वर्ष में कम से कम 100 दिन काम देने के उद्देश्य से इस कानून की शुरूआत की थी, लेकिन यह महत्वाकांक्षी योजना आज अपने मकसद से भटक गयी है. उन्होंने राज्य की रघुवर सरकार पर जमकर निशाना साधा. कहा कि इस सरकार के कार्यकाल में राज्य की स्थिति बदतर हो गयी है.

इसे भी पढ़ेंः प्रद्युम्न मर्डर केस: आरोपी छात्र पर बालिग की तरह चलेगा केस, 22 से होगी सुनवाई

लोगों को नहीं मिल रहा खाद्य आपूर्ति और सामाजिक सुरक्षा पेंशन का लाभ : कामेश्वर बैठा

इस मौके पर पूर्व सांसद कामेश्वर बैठा ने कहा कि पलामू समेत पूरे राज्य में खाद्य आपूर्ति, सामाजिक सुरक्षा पेंशन और मनरेगा जैसी योजनाओं का लाभ वास्तविक लाभुकों को नहीं मिल पा रहा है. यही वजह है कि राज्य में भूख के कारण कई गरीबों की मौत हो चुकी है. बीमार लोगों के लिए समुचित इलाज का प्रबंध भी नहीं है. राज्य के पूर्व मंत्री दुलाल भुईंया ने कहा कि शीर्ष अदालत ने कहा है कि जनपयोगी योजनाओं में आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है, लेकिन राज्य की सरकार आधार लिंक कराने के नाम पर लोगों को राशन और पेंशन से वंचित कर रही है. उन्होंने सरकार पर पूंजीपतियों के पक्ष में काम करने का आरोप लगाया.

इसे भी पढ़ेंः दिनाकरण गुट ने जयललिता का अस्पताल के दौरान का वीडियो किया जारी, पी रही थी हेल्थ ड्रिंक

भूख और बीमारी से मर रहे लोग, कॉरपोरेट के विकास में लगी है सरकार : चंद्रशेखर

धरना की अध्यक्षता कर रहे कांग्रेस जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला ने कहा कि राज्य में एक तरफ भूख और बीमारी से गरीबों की मौत हो रही है और दूसरी ओर सरकार कॉरपोरेट घरानों के विकास में लगी हुई है. मौके पर हृदयानंद मिश्र, श्याम नारायण सिंह, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रामाशीष पांडेय, पप्पू अजहर, विश्राम दुबे, बसंत सिंह, कैशर जावेद, शमीम अहमद राईन, लक्ष्मी तिवारी, सतीश चौबे, कौशल दुबे, जीशान खां, जितेन्द्र कमलापुरी, तपेश्वर प्रसाद समेत कई कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button