न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विश्व मंच पर पाकिस्तान बेनकाब, यूएन द्वारा जारी आंतकी लिस्ट में हाजिफ समेत 139 पाकिस्तानी शामिल

12

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की जारी सूची में मुंबई हमले के सरगना हाफिज सईद के संगठन लश्कर- ए- तैयब्बा का भी नाम

Washington: आंतकियों के पनाहगार पाकिस्तान की एकबार फिर वैश्विक मंच पर पोल खुल गयी है.  संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा जारी आतंकवादियों और चरमपंथियों की ताजा सूची में 139 पाकिस्तानी नाम शामिल हैं. मीडिया में आयी खबरों के मुताबिक, इस सूची में मुंबई हमले के सरगना हाफिज सईद के संगठन लश्कर- ए- तैयब्बा का भी नाम है. डॉन न्यूज की खबर के अनुसार, सूची में शीर्ष पर ओसामा बिन- लादेन के उत्तराधिकारी ऐमन अल- जवाहिरी का नाम है.

इसे भी पढ़ें:मेन्टॉस कंपनी के विज्ञापन में सीएम रघुवर दास की वीडियो क्लिप लगाने वाला शख्स गिरफ्तार

यूएन की लिस्ट में वे आतंकवादी और आतंकी संगठन हैं, जो पाकिस्तान में रहते हैं. अगर रहते नहीं तो आतंक फैलाने के लिए पाकिस्तान की धरती का उपयोग करते हैं. इस लिस्ट में अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबाजैश-ए- मोहम्मद और जमात-उद-दावा भी है, जिन्हें भारत देश में आतंकवाद फैलाने के लिए जिम्मेदार ठहराता आया है. इस सूची में मुंबई हमले का मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयब्बा प्रमुख हाफिज सईद को एक ऐसे व्यक्ति के रूप में शामिल किया गया है जो इंटरपोल का वांछित है और आतंकवादी गतिविधियों में शामिल है. लश्कर- ए- तैयब्बा ने मुंबई में कई जगहों पर आतंकवादी हमले किये थे जिसमें छह अमेरिकी नागरिकों सहित 166 लोग मारे गये थे.

इसे भी पढ़ें:गोमिया और सिल्ली विधानसभा चुनाव जून में होना तय ! आजसू दोनों सीट पर अड़ा, क्या लंबोदर महतो के सपने पर फिरेगा पानी

हाफिज को अमेरिका से झटका

आंतकी हाफिज सईद को अमेरिका ने बड़ा झटका देते हुए, उसके राजनीतिक पार्टी को आंतकी संगठन घोषित किया है.  9/11 के बाद हंगामा मचा तो हाफिज ने दुनिया को चकमा देने के लिए अपने आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैय्यबा का नाम बदलकर जमात-उद-दावा रखा. इसके बाद मुंबई में 26/11 हुआ, तो उसने फिर वही खेल खेला. अबकी जमात-उद-दावा का नाम बदल दिया और फिर एक नया नाम रखा तहरीक-ए-हुरमत-ए-रसूल. फिर इस पर भी पाबंदी लग गई, तो एक नई राजनीतिक पार्टी खड़ी कर ली-मिल्ली मुस्लिम लीग. आतंकियों के सरगना हाफिज का सपना था आम चुनाव जीतकर पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनना. मगर अब लश्कर चीफ हाफिज़ सईद के चेहेरे से मुखौटा हट गया है, क्योंकि अब अमेरिका ने मिल्ली मुस्लिम लीग को भी विदेशी आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया है.

पाकिस्तान में है दाऊद

यूएन की लिस्ट सामने आने के बाद भारत का यह दावा पुख्ता होता है कि दाऊद पाकिस्तान में ही है. जबकि पाक हमेशा से इनकार करता रहा है. खबर के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र की इस सूची में भारतीय नागरिक दाऊद इब्राहीम कासकर का नाम भी शामिल है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् के अनुसार, दाऊद के पास कई पासपोर्ट हैं जो रावलपिंडी और कराची से जारी हुए हैं. संयुक्त राष्ट्र का दावा है कि कराची के नूराबाद में दाऊद का एक बड़ा बंगला है. वह 1993 के मुंबई बम विस्फोटों का मास्टरमाइंड है.

इसे भी पढ़ें: टू-व्हीलर पर ढोये गये राशन ! कैग रिपोर्ट पर घिरी दिल्ली सरकार, केजरीवाल ने कहा-बख्शे नहीं जाएंगे दोषी

यूएन की इस लिस्ट में अल रशीद ट्रस्ट, हरकत उल मुजाहिदीन, इस्लामिक मूवमेंट ऑफ उज्बेकिस्तान, वफा ह्यूमनटेरियन ऑर्गनाइजेशन, राबिता ट्रस्ट, , रेवीवल ऑफ इस्लामिक हेरीटेज सोसायटी, लश्कर ए झांगवी, अल हरमेन फाउंडेशन, इस्लामिक जिहाद ग्रुप, अल अख्तर ट्रस्ट इंटरनेशनल, हरकतुल जिहाद इस्लामी, तहरीके तालिबान पाकिस्तान, जमातुल अहरार एंड खतीबा इस्लाम अल बुखारी, उम्माह तामीर-ए-नाउ, अफगानिस्तान सपोर्ट कमेटी आदि संगठन ऐसे हैं जिनका संबंध पाकिस्तान से है. यूएन की इस लिस्ट ने एकबार फिर भारत के उन दावों पर मुहर लगा दी है, जिसमें भारत हमेशा से पाकिस्तान पर आंतकियों को पनाह देने, भारत के खिलाफ साजिश रचने और आंतकी घटनाओं को अंजाम देने की बात कही है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: