न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वार्ड 38 : आवास योजना के नाम पर पार्षद और ठेकेदार ने लाभुकों से ठगे लाखों रुपये, पानी व सड़क की है बड़ी समस्या

70

Ranchi : वार्ड 38 के रहने वाले लोगों में अपने पार्षद को लेकर काफी रोष है. इसकी सबसे बड़ी वजह पीएम आवास योजना के नाम पर लाभुकों से राशी की ठगी करना है. इन लोगों का कहना है कि ठेकेदार हमलोगों के  पीएम आवास योजना के तहत मिले पैसे लेकर भाग गया. साथ ही लोगों ने बताया कि ठेकेदार से उन्हें पार्षद ने ही मिलवाया था. दरअसल एक साल पहले पार्षद सबीता कूजुर ने पीएम आवास योजना के लाभुकों के मकान बनाकर देने के नाम पर इंजिकॉम प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ठेकेदार से मीटिंग करवायी थी. जिसमें ठकेदार ने कहा था कि वह उनलोगों का मकान एक साल में बनाकर देगा. लेकिन ठेकेदार ने लाभुकों से पहली किस्त की राशि लेकर मकान की जगह गड्ढा कर दिया और सारे पैसे लेकर उड़ गया. पीड़ित लाभुक डिबडीह, बुचा टोला, कोहिनार टोला, दाउद नगर के हैं.

इसे भी पढ़ें – वार्ड 37 : बदहाल सड़क और नालियों से हरमू हाउसिंग कॉलोनी के लोग परेशान

80 लाभुकों से ठगा 40 लाख

लगभग 80 लाभुकों से ठेकेदार ने पीएम आवास की पहली किस्त(45,000) और पंद्रहा हजार रुपये यानी कुल पर लाभुकों से 60 हजार रुपये लिए और काम करना शुरु किया. लेकिन कहीं गड्डा, कहीं प्लिंथ लेवल काम कर ठेकेदार भाग गया. ठगी की शिकार हुयी पुष्पा देवी और कार्मिक उरांव का कहना है कि ठेकेदार ने हमलोगों से राशि लेकर मकान बनाने के नाम पर सिर्फ गड्डा करके ही छोड़ दिया. जब इसकी शिकायत हमसब पार्षद से करते हैं तो उनका कहना है कि हम क्या करें. वहीं इसी वार्ड की रहने वाली परीबा तीग्गा का कहना है कि आज एक साल से भी ज्यादा हो गया और मकान बनाने के लिए मैंने अपनी झोपड़ी भी तोड़ डाली. ठेकेदार ने 60 हजार रुपया लिया और सिर्फ गड्डा करके भाग गया.

गौरतलब है पीएम आवास योजना की राशि चार किस्त में लाभुकों को मिलती है. मकान के हर फेज के काम के बाद अधिकारी उसकी तस्वीर खींच कर ले जाते हैं. जिसके बाद राशि लाभुकों के खाते में आता है. अब इन लाभुकों का कहना है कि जबतक मकान का प्लिंथ लेवल बन नहीं जाता है, तब तक दूसरी किस्त की राशि नहीं मिलेगी. पीड़ित लोगों का कहना है कि अब हमारे पास उतने पैसे नहीं है कि हम अपने प्लिंथ लेवल तक काम करवायें.

इसे भी पढ़ें – वार्ड 30 की जमीनी हकीकत : विकास कार्य तो हुए पर गंदगी अब भी बड़ी चुनौती

सड़क, पानी की भी है समस्या

वार्ड 38 के कोनार टोली, भगत कोचा, दाउद नगर, डीबडीह, अखरा कोचा और नया टोला में सड़क की स्थिती बेहद खराब है. राकेश तिग्गा का कहना है कि पांच साल में सड़क को बनाने के नाम पर सिर्फ गड्ढे करके छोड़ दिया गया. लेकिन अभी तक सड़क बनी नहीं है. मुकेश लिंडा कहते हैं कि बुच्चा टोली में आजतक कच्ची ही सड़क से लोग काम चला रहे हैं. वहीं इलाके के विकास मुंडा का कहना है कि यहां पानी की भी काफी समस्या है. साथ ही इलाके के लोगों का कहना है कि यहां सप्लाई वाटर की व्यवस्था नहीं है और बोरिंग वाटर का कनेक्शन भी एक-दो जगहों पर ही है.

पार्षद का पक्ष

इस बारे जब हमने वार्ड संख्या 38 की वार्ड पार्षद सबीता कूजुर का पक्ष लेने के लिए फोन किया तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया. 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: