न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वार्ड नंबर 7 में बदहाल सड़क को लेकर लोगों में है आक्रोश

35

Ranchi : झारखंड में नगर निकाय चुनाव की रणभेरी बज चुकी है…प्रत्याशी अपनी ताकत टटोलने और समर्थन जुटाने की मशक्कत में जुट चुके हैं, मगर सवाल लोगों की ख्वाहिशों का है. जो किसी की पूरी तो हुई, मगर कई लोग ऐसे भी हैं, जिनकी ख्वाहिशें आज भी अधूरी रह गई, वो ख्वाहिश थी विकास की. रांची नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर सात के आर्दश नगर की पीसीसी सड़कों को देख बगल के ही कमला नगर के लोगों को उम्मीद थी, उनके मुहल्ले की भी सड़क बनेगी, पर ऐसा अभी तक नहीं हो पाया. नतीजा लोगों में इसे लेकर काफी आक्रोश है.

Asghar Khan

Ranchi : झारखंड में नगर निकाय चुनाव की रणभेरी बज चुकी है…प्रत्याशी अपनी ताकत टटोलने और समर्थन जुटाने की मशक्कत में जुट चुके हैं, मगर सवाल लोगों की ख्वाहिशों का है. जो किसी की पूरी तो हुई, मगर कई लोग ऐसे भी हैं, जिनकी ख्वाहिशें आज भी अधूरी रह गई, वो ख्वाहिश थी विकास की. रांची नगर निगम क्षेत्र के वार्ड नंबर सात के आर्दश नगर की पीसीसी सड़कों को देख बगल के ही कमला नगर के लोगों को उम्मीद थी, उनके मुहल्ले की भी सड़क बनेगी, पर ऐसा अभी तक नहीं हो पाया. नतीजा लोगों में इसे लेकर काफी आक्रोश है. खराब सड़कों की वजह से लोगों इधर चलना-फिरना मुश्किल हो गया है.  वहीं वार्ड के लोगों को कई बुनियादी सुविधाओं का भी अभाव है, जिसके पूरे होने की आस भी अब बोझिल हो गई है.

इसे भी देखें- उज्‍जवला योजना : 45 दिनों 15 लाख लाभुकों को गैस कनेक्‍शन, 2 महीने में 312 नये एलपीजी डीलर का लक्ष्‍य -रघुवर दास  

kamlanagar

रिक्शा-ऑटो वाले भी नहीं आते

कमला नगर निवासी सुनील तिवारी कहते हैं कि खराब सड़कों की वजह से यहां रिक्शा या ऑटो वाला नहीं आता है. पार्षद और डिप्टी मेयर को इस बात की जानकारी कई बार दी गई, पर अभी तक कोई ध्यान नहीं दिया गया. पिछले पांच वर्षों में कमला नगर में न सप्लाई वाटर मिल सका है और न ही सड़क बनाई गई है. इस बार हमारे मुहल्ले वालों ने तय किया है कि वर्तमान पार्षद को वोट कतई नहीं करेंगे. जितेंद्र का कहना है कि विकास का पैमाना सड़क-पानी होता है, लेकिन कमला नगर के लोग इन दोनों सुविधाओं से वंचित है.

इसे भी देखें- आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने 80:20 गोल्ड स्कीम में वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम का किया बचाव 

खोरहा टोली में है जल संकट

वार्ड नंबर सात के खोरहा टोली में सड़क के साथ-साथ पानी की एक बड़ी समास्या है. सीपी बरवाला कहती हैं कि कई जगहों पर सड़क नहीं है. पानी दूसरे के यहां से लाना पड़ता है. पास के मुहल्ले में सप्लाई वाटर तो है पर हमारे मुहल्ले में नहीं है. गर्मी के दिनों पानी की समास्या इस इलाकों में हर बार होती है. अगर इस बार भी ध्यान नहीं दिया गया, लोगों को काफी परेशानी होगी. अनीता कहती हैं कि पार्षद की तरफ से भी इस इलाकों में ध्यान नहीं दिया जाता है.

खोरहाटोली

इसे भी देखें- सभी मामलों से बरी हो गया 25 लाख का इनामी नक्सली छोटा विकास उर्फ चश्मा, रिहाई के बाद डीसी ने किया स्वागत

पार्षद का पक्ष

वार्ड सात की पार्षद सुजाता कच्छप का कहना है कि पिछले पांच  सालों में अपने वार्ड में कई जगहों पर बड़ी-बड़ी सड़कें बनी है. उन्होंने कहा कि कमला नगर कुछ साल पहले ही बसा है. कमला नगर मोहल्ले की सड़क दो साल पहले क्लियर हुई है. इस वजह से सड़क का काम नहीं हो पाया है. कुछ हिस्सों में 500600 फीट में सड़के बनी है. उन्होंने कहा कि आदर्श नगर में पार्षद फंड से 10 लाख की लागत से सड़क बनाया गया है. हर क्षेत्र में सड़क ही विकास का सबसे बड़ा पैमाना होता है. अपने पांच  साल के कार्यकाल में वार्ड में लाइट, लोगों का राशन कार्ड, वृद्धा पेंशन बनाने का हर संभव प्रयास किया है. वार्ड में किए गए विकास कार्य को लेकर ही जनता के बीच जाएंगे.

इसे भी देखें- लोहरदगा : इंटर साइंस की परीक्षा देकर लौटी, सुसाइड नोट छोड़ा और फंदे से झूल गयी छात्रा

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: