न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लातेहार : ट्रैक मैन और ड्राइवर की सूझबूझ से बाल-बाल बची बरकाकाना डेहरी पैसेंजर ट्रेन (देखें वीडियो)

80

Manoj Dutt Dev

mi banner add

Latehar, 10 December : रविवार की सुबह बरकाकाना डेहरी पसेंजर ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गयी. ट्रैक मैन और ट्रेन के ड्राइवर की सूझबूझ से यह हादसा टला. दरअसल, लातेहार जिला से गुजरने वाली बरकाकाना बरवाडीह रेल खण्ड के कुमंडी और हेहेगड़ा रेलवे स्टेशन के बीच पोल संख्या 236    के समीप बरकाकाना डेहरी पसेंजर ट्रेन अपनी गति से गुजर रही थी. इसी दौरान ट्रेन के ड्राइवर की नजर इंजन के अंदर खतरा बताने वाली लाल सिग्नल पर पड़ी. हालांकि यह सिग्नल हर छोटी-छोटी बातों पर जला करती है, मगर ट्रेन ड्राइवर ने छोटी बात न समझ कर सिग्नल को गम्भीरता से लिया और 230 पोल संख्या पर ट्रेन की रफ्तार धीमी कर दी. तभी ड्राइवर की नजर पटरी पर खड़े एक व्यक्ति पर पड़ी जो लाल झंडा हिला रहा था. जैसे ट्रेन को रोकने का संदेश दे रहा हो. ड्राइवर ने उस व्यक्ति के इशारे को गंभीरता से लिया और ट्रेन में ब्रेक लगा दी.

ट्रैक मैन ने दिखाया था लाल झंडा

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

ड्राइवर ट्रेन से उतर कर उस व्यक्ति के पास गया. वह व्यक्ति ट्रैक चाभी मैन मानेसर मांझी था. पूछा कि लाल झंडा क्यों दिखाया. पूछने पर ट्रैक मैन ने बताया कि आगे पटरी क्षतिग्रस्त है. ट्रेन गुजरेगी तो बड़ा हादसा हो सकता है. ड्राइवर ने निरीक्षण किया तो पाया कि आगे पटरी टूटी हुई है. इसकी जानकारी रेलवे के वरीय पदाधिकारी को वॉकी-टॉकी पर दी गयी. बताया जाता है कि ट्रेन पर 500 से भी जयादा यात्री सवार थे. यदि ट्रेन आगे बढ़ती तो बड़ा हादसा होने कि संभावना थी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: