Uncategorized

रोहतासः शहीद जवान ज्योति प्रकाश का पार्थिव शरीर पहुंचा पैतृक गांव, आंखें नम

News Wing
Rohtas, 20 November: जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा में पांच आतंकियों को ढेर करने के बाद शहीद हुए ज्योति प्रकाश निराला का शव सोमवार सुबह बिहटा एयरफोर्स केंद्र पहुंचा, जहां वायुसेना और आर्मी के अधिकारियों और जवानों ने शहीद को सलामी दी. जिसके बाद पूरे सम्मान के साथ उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव बादलडीह पहुंचा. शहीद के दर्शन के लिए गांव के लोग 36 घंटों से इंतजार कर रहे थे. शव पहुंचते ही चारों ओर कोहराम मच गया और लोगों की आंखे नम हो गयी. इस दौरान लोगों ने पाकिस्तान मुर्दावाद के नारे भी लगाए.

ना पाकिस्तान होता और ना ही होते आतंकीः शहीद के पिता

शहीद ज्योति प्रकाश के पिता तेज नारायण सिंह ने कहा कि सरकार पाकिस्तान का क्यों कुछ नहीं कर रही है. ना तो पाकिस्तान होता और ना ही आतंकी होते. जब आतंकी ही नहीं होते तो फिर किसी भी मां की कोख और किसी बहू की मांग सूनी होती.

इसे भी पढ़ें- रांची लाया गया मणिपुर में शहीद हुए जवान का पार्थिव शरीर, राज्यपाल ने दी श्रद्धांजलि

Sanjeevani

ज्योति प्रकाश ने अकेले ही पांच आतंकियों को मार गिराया

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के बांंदीपुरा के हाजिन एरिया में शनिवार को सेना के संयुक्त ऑपरेशन में सुरक्षा बलाें ने छह आतंकियों को मार गिराया था. जिसमें पांच आतंकियों को ज्योति प्रकाश ने अकेले ही मार गिराया था. सुरक्षा बलों को आतंकियों के छिपे हाेने की सूचना मिली थी. जिसके बाद सुरक्षा बलाें ने हाजिन क्षेत्रों में सर्च ऑपरेशन चलाया. इस दौरान छिपे हुए आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई करते हुए ज्योति प्रकाश ने मोर्चे को संभाला और पांच आतंकियों को मार गिराया.

बहनों की शादी का वादा कर ड्यूटी पर गये थे ज्योति

ज्योति ने साल 2005 में इंडियन एयर फोर्स ज्वाइन किया था. वह गरुड़ कमांडो थे. पांच साल के बाद साल 2010 में उनकी शादी सुषमा से हुई थी. परिजनों ने बताया कि ज्योति 20 दिन पहले अपने गांव से ड्यूटी के लिए गए थे. इस दौरान वे पिता से वादा करके गए थे कि इस बार लौटने पर बहनों की शादी की जाएगी. शहीद ज्योति प्रकाश अपने पीछे पत्नी और 4 साल की बेटी जिज्ञासा के अलावे माता-पिता व चार बहनें छोड़ गए हैं

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button