न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राज्यसभा चुनाव आज, इस बार वोट देने के लिए नहीं बल्कि अपना वोट खराब करने के लिए इनाम का ऑफर, साहू और संथालिया के बीच होगी जोरदार टक्कर

15

Ranchi: शुक्रवार की वो सुबह आ ही गयी जिसका इंतजार राज्य से सभी पार्टियों को था. चुनावी रणभेरी बज चुकी है. दस दिनों से बन रही रणनीति को अंजाम देने का वक्त आ गया है. शुक्रवार को चुनावी परिणाम से साबित हो जाएगा कि चुनावी शह और मात का खेल किसे बेहतर तरीके से खेलने आता है. चुनाव से पहले बीजेपी ने अपनी जीत पक्की बतायी है, तो विपक्ष के कांग्रेस और झामुमो ने भी जीत का दावा ठोका है. देखने वाली बात होगी कि आज का शुक्र किस उम्मीदवार पर भारी पड़ता है. चुनाव जीतने के लिए जो भी समीकरण बनाने थे पक्ष और विपक्ष दोनों ने बना लिए हैं.

इसे भी पढ़ें:कंबल घोटालाः घोटालेबाजों पर कार्रवाई की फाइल को डेढ़ माह से दबाये हुए हैं “बेदाग सरकार” वाले सीएम के प्रधान सचिव सुनील बर्णवाल

क्रॉस वोटिंग के लिए नहीं बल्कि अपना वोट खराब करने के लिए मिलेगा इनाम !

इस बार दोनों पार्टियों की तरफ से विधायकों को नायाब काम के लिए इनाम देने की बात हो रही है. अगर उम्मीदवार क्रॉस वोटिंग करता है, तो पता चल जाता है कि उसने अपनी पार्टी के साथ बईमानी की है. इसलिए इस बार जरा हटकर प्लान बनाया गया है. प्लान है कि क्रॉस वोटिंग नहीं करनी है, अपना वोट किसी तरीके से खराब कर लेना है. जिसके कई तरीके हैं. इससे विधायक अपनी पार्टी को संतुष्ट करने के लिए कई तरह के बहाने बना सकता है. वोट खराब करने के बावजूद आने वाले नए साल में चुनाव के वक्त टिकट ना देने के लिए पार्टी उसपर क्रॉस वोटिंग का आरोप भी नहीं लगा सकती है.

बाजार में है चर्चा एक खोखे में हुई है डील फाइनल

राज्यसभा चुनाव को लेकर कई तरह की बात बाजार में हो रही है. चर्चा है कि इस बार विधायकों को इनाम के तौर पर एक खोखा (एक करोड़) का दिया जा सकता है. जिसका एडवांस विधायकों तक शायद पहुंच भी गया है. एडवांस के तौर पर आधी रकम की डिमांड है. बाकी के पैसे काम होने के बाद डिलेवरी होने की बात है. बाकी चुनाव के दौरान विषम परिस्थिति में अगर कोई विधायक करोड़पति उम्मीदवार की मदद करता है, तो उसके लिए मेगा प्राइज की भी व्यवस्था की तैयारी है. चुनावी नतीजे बताएंगे कि खोखा का कार्टून किन-किन मददगारों के पास पहुंचा है.

इसे भी पढ़ें: मेडिका की ब्‍लैकमेलिंग : कहा – मुंहमांगी रकम दो वरना जहर से मौत के केस में फंसा देंगे

कांग्रेस को मिला निर्मला देवी का साथ

पिक

निर्मला देवी गुरुवार को 12 बजे दिन तक भोपाल में थी. उनके सहयोगियों ने बताया कि झारखंड जाने के लिए कानूनी सलाह ली जा रही है. अगर सब कुछ ठीक रहा तो शाम तक भोपाल से रांची के लिए रवाना हो सकती है. सुबह की खबर के मुताबिक निर्मला देवी रांची आ चुकी है. इससे साफ तौर से कांग्रेस को फायदा होने जा रहा है. बताया जा रहा है कि भोपाल से रांची आने तक का सारा इंतजाम करने में कांग्रेस ने उनकी खूब मदद की है.

क्या झामुमो भी देगा कांग्रेस की तरह झटका ?

पिछले चुनाव में कांग्रेस के पांकी विधायक बिट्टु सिंह अगर राज्यसभा चुनाव के लिए वोट करने पहुंच जाते तो झामुमो उम्मीदवार बसंत सोरेन का राज्यसभा जाने का रास्ता साफ हो जाता. लेकिन, बिट्टु सिंह के नहीं आने से महेश पोद्दार जीत गए. राजनीति में कसर निकालने के रवायत काफी पुरानी है. ऐसे में कहीं पिछले बार का कसर झामुमो ना निकाल ले. इस बार उम्मीदवार कांग्रेस का है और मौका झामुमो के पास. जो भी हो इस बार का राज्यसभा चुनाव के नतीजे आने वाले विधानसभा और लोकसभा चुनाव की रणनीति तय करता दिखेगा. न्यूज विंग की शुभकामनाएं सभी उम्मीदवारों के साथ है.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: