Uncategorized

रांची : रिम्स में 19 जनवरी से होगा पैथोलॉजिस्ट अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन, सार्क देशों के 250 विशेषज्ञ चिकित्सक लेंगे भाग

Ranchi : आगामी 19,20 और 21 जनवरी को रिम्स ऑडिटोरियम में सार्क देशों का प्रथम अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन साइटो और हिस्टो पैथोलोजिस्ट का तीन दिवसीय सम्मेलन आयोजित किया जायेगा. इस सम्मेलन में लगभग 250 विशेषज्ञ चिकित्सक भाग लेंगे. इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के बारे में रिम्स के प्रभारी निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने कहा कि सार्क के आठ देश अफगानिस्तान,बांग्लादेश,भूटान, पाकिस्तान,नेपाल,मालदीव,श्रीलंका और भारत के साइटो पैथोलॉजिस्ट और हिस्टो पैथोलॉजिस्ट विशेषज्ञों का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया है. साथ ही उन्होंने कहा कि सम्मेलन में भाग लेने वाले विशेषज्ञ ने पंजीकरण करा लिया है.

Ranchi : आगामी 19,20 और 21 जनवरी को रिम्स ऑडिटोरियम में सार्क देशों का प्रथम अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन साइटो और हिस्टो पैथोलोजिस्ट का तीन दिवसीय सम्मेलन आयोजित किया जायेगा. इस सम्मेलन में लगभग 250 विशेषज्ञ चिकित्सक भाग लेंगे. इस अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के बारे में रिम्स के प्रभारी निदेशक डॉ आरके श्रीवास्तव ने कहा कि सार्क के आठ देश अफगानिस्तान,बांग्लादेश,भूटान, पाकिस्तान,नेपाल,मालदीव,श्रीलंका और भारत के साइटो पैथोलॉजिस्ट और हिस्टो पैथोलॉजिस्ट विशेषज्ञों का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया है. साथ ही उन्होंने कहा कि सम्मेलन में भाग लेने वाले विशेषज्ञ ने पंजीकरण करा लिया है.

इसे भी पढ़ें – पलामू: अवैध शराब बनानेवालों के खिलाफ बड़ा अभियान, दो गिरफ्तार, 10 ड्रम जावा महुआ और  50 लीटर देशी शराब बरामद

तीन दिवसीय अंतराष्ट्रीय सम्मेलन

तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के पहले दिन 19 जनवरी को थायरॉयड ग्लैंड से संबंधित बीमारियों की जांच,निदान और समस्याओं पर परिचर्चा की जाएगी. वहीं 20 जनवरी को शरीर के विभिन्न अंगों में होने वाली बीमारियों के साथ हड्डी,स्त्री रोग, फेफड़ा और शरीर के विभिन्न अंगो में होने वाली बीमारियों पर परिचर्चा की जाएगी. जबकि 21 जनवरी को पैनल डिस्कशन के साथ साइटो पैथो और हिस्टो पैथो के विभिन्न आयामों पर चर्चा होगी,कि कैसे मरीजों को बेहतर लाभ पहुंचाया जा सके.

इस सम्मेलन में बांग्लादेश के डॉ जिल्लु रहमान सैच एकेडमी ऑपरेशन पर अपना व्याख्यान देंगे. जबकि पाकिस्तान के डॉ सैयद मुलाजिम हुसैन बुखारी (यूनिवर्सिटी ऑफ लाहौर) द्वारा जांच एवं इलाज में मॉलिक्यूलर पैथोलॉजी की भूमिका पर विस्तार से जानकारी देंगे. वहीं अफगानिस्तान (काबुल) के डॉ ओमेर माला कजांची द्वारा फंगल डिजीज पर एम्स,कोच्चि के डॉ अनीता जोजो हड्डी के कैंसर पर अपना व्याख्यान देंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button