न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची : कुख्यात अपराधी जीतेंद्र नायक ने किया सरेंडर, 25 आपराधिक मामलों में है आरोपी

49

Ranchi: आपराधिक गिरोह झारखंड क्रांतिकारी संगठन के सुप्रीमो जीतेंद्र नायक ने शुक्रवार को सरेंडर कर दिया. रांची एसएसपी कुलदीप द्विवेदी के सामने देसी राइफल और 4 जिंदा गोलियों के साथ उसने सरेंडर किया. जीतेंद्र नायक पहले पीएलएफआई का सक्रिय उग्रवादी था. 35 वर्ष का यह अपराधी रांची के लापुंग का रहने वाला है. इस पर रांची, गुमला और सिमडेगा तथा खूंटी में कई हत्या, डकैती, लूट एवं रंगदारी के मामले दर्ज हैं. 2007 में इसने पीएलएफआई से अलग होकर अपना अलग संगठन बना लिया था. जीतेंद्र नायक पर विभिन्न जिलों के कई थानों में 25 मामले दर्ज हैं.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-07ः ढ़ाई साल में भी सीआइडी नहीं कर सकी चार मृतकों की पहचान

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड की जांच में तेजी आते ही बदल दिए गए सीआईडी एडीजी एमवी राव

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांडः डीजीपी डीके पांडेय, एडीजी प्रधान, अनुराग गुप्ता समेत घटनास्थल गए सभी वरीय अफसरों का बयान दर्ज करने का निर्देश

पीएलएफआई से अलग होकर बनाया था झारखंड क्रांतिकारी संगठन
जीतेंद्र नायक पहले पीएलएफआई का सक्रिय सदस्य था. बाद में मोह भंग होने के कारण उसने झारखंड क्रांति संगठन का गठन किया था. पीएलएफआई और झारखंड क्रांति के बीच कई बार गैंगवार हो चुका है, जिसमें कई लोग मारे जा चुके हैं.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-01ः सीआईडी ने न तथ्यों की जांच की, न मृतकों के परिजन व घटना के समय पदस्थापित पुलिस अफसरों का बयान दर्ज किया

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-02ः-चौकीदार ने तौलिया में लगाया खून, डीएसपी कार्यालय में हुई हथियार की मरम्मती !

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड का सच-03- चालक एजाज की पहचान पॉकेट में मिले ड्राइविंग लाइसेंस से हुई थी, लाइसेंस की बरामदगी दिखाई ईंट-भट्ठे से

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: