न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांचीः प्याज के बढ़े भाव, दाम सुन आंखों से निकल रहे आंसू

23

News Wing
Ranchi, 28 November: राजधानी रांची में प्याज की बढ़ती कीमत ने लोगों का जायका बिगाड़ दिया है. खुदरा मार्केट में यह 50 से 55 रुपये किलो तक बिक रहा है, जबकि थोक बाजार में इसकी कीमत 4200 से 4900 रुपये प्रति क्विंटल तक है. पिछले एक माह के अंदर सब्जियों की कीमत में काफी इजाफा हुआ है. खासकर प्याज की कीमत कई गुणा बढ़ गयी है. 12 से 15 रुपये किलो बिकने वाला प्याज आज 50 से 55 रुपये किलो बिक रहा है. पिछले दस दिनों के अंदर प्याज की कीमत में 25 से 30 रुपये का उछाल आया है.

बढ़ते दामों का नतीजा भुगत रही जनता

प्याज की बढ़ते दाम को लेकर खुदरा दुकानदारों का अलग रोना है, वहीं थोक व्यापारी अपना अलग दलील दे रहे हैं. इनकी माने तो प्याज की आवक काफी कम गयी है. जिसके कारण कीमत बढ़ रही है. खाद्य पदार्थ पर नियंत्रण रखने का दावा करने वाली सरकारी मशीनरी इस मामले पर पूरी तरह उदासीन नजर आ रही है. नतीजा जनता को भुगतना पड़ रहा है.

18 की जगह मात्र पांच से सात ट्रक प्याज ही बाहर से आ रहे

गौरतलब है कि राजधानी में 15 से 18 ट्रक प्याज की प्रतिदिन डिमांड है. जिसकी पूर्ति नासिक, बेंगलुरु, राजस्थान और पंजाब से होती है. लेकिन फिलहाल सिर्फ नासिक से ही प्याज आ रहा है. वो भी मात्र पांच से सात ट्रक. नतीजा राजधानी में लोग प्याज के आंसू रो रहे हैं.

क्या कहना हैं लोगों का

अशोक नगर निवासी शिवेश कुमार का कहना है कि महज 10 से 15 दिनों में प्याज का दाम 30 रूपये बढ़ जाना बहुत परेशानी की बात है. अब 55 से 60 रूपये प्रति किलो हो गया है. पहले एक किलो प्याज खरीदता था लेकिन अब दाम बढ़ जाने की वजह से अब आधा केजी खरीदता हूं.

रिक्शा चालक सोमरा टोप्पो का कहना है कि प्याज खरीदना हम जैसे गरीबों की वश की बात नहीं है. जब 15 से 20 रूपया प्याज मिलता था तो खरीद लेते थे. लेकिन जब से 50 से 55 रुपये किलो हुआ है तब से प्याज खरीदने की हिम्मत नहीं होती है.

वहीं प्याज बेचने वाले दुकानदार का कहना है कि हमलोग खुद 45 से 48 रूपया थोक में प्याज खरीदते हैं. फिर इसे 50 से 55 रूपये प्रति किलो बेचते हैं. 10 दिनों के अंदर में 25 से 30 रूपये दाम बढ़ गये हैं जिसकी वजह से हमें भी काफी परेशानी हो रही है. इससे दुकानदार और जनता दोनों ही परेशान है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: