Uncategorized

रघुवर ने किया राजबाला-डीके पांडेय का बचाव, विपक्ष ने कहाः सीएस-डीजीपी व एडीजी को हटाये बिना नहीं करेंगे सदन में सहयोग

Ranchi: झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का तीसरा दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया. हंगामे के कारण स्पीकर की सदन की कार्यवाही शनिवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी. इससे पहले मुख्य सचिव राजबाला वर्मा और डीजीपी डीके पांडेय  और एडीजी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर विपक्ष ने सदन के अंदर खूब हंगामा किया. सरकार ने अपने बचाव में कहा कि झामुमो ने अपनी सरकार में बार-बार दागी चीफ सेक्रेटरी दिया, लेकिन विपक्ष ने अपनी स्थिति साफ कर दी कि जबतक ये अधिकारी नहीं हटाये जायेंगे वो सदन चलाने में सहयोग नहीं करेगा.

Ranchi: झारखंड विधानसभा के बजट सत्र का तीसरा दिन भी हंगामे की भेंट चढ़ गया. हंगामे के कारण स्पीकर की सदन की कार्यवाही शनिवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी. इससे पहले मुख्य सचिव राजबाला वर्मा और डीजीपी डीके पांडेय  और एडीजी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर विपक्ष ने सदन के अंदर खूब हंगामा किया. सरकार ने अपने बचाव में कहा कि झामुमो ने अपनी सरकार में बार-बार दागी चीफ सेक्रेटरी दिया, लेकिन विपक्ष ने अपनी स्थिति साफ कर दी कि जबतक ये अधिकारी नहीं हटाये जायेंगे वो सदन चलाने में सहयोग नहीं करेगा.

बाप-बेटा सीएम बने, आदिवासियों को ठगा और अब बहा रहे घड़ियाली आंसूः सीएम

विपक्ष के हंगामे के बीच मुख्यमंत्री ने सदन में झामुमो पर जमकर हमले किये. उन्होंने कहा राज्य गठन के बाद बाप-बेटा सीएम बने. इन लोगों ने आदिवासियों को ठगा है और अब घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं. सीएम ने कहा कि मैं वंशवाद से नहीं आया हूं. जनता की सेवा कर रहा हूं. भाजपा के शासन में राज्य की स्थिति बदली है. सरकार जनता से किया वादा पूरा कर रही है. कहा कि मुझे लाचार कहा जाता है, लेकिन में वंशवाद करके नहीं आया हूं. मजदूर का बेटा हूं और संकल्प के साथ काम कर रहा हूं.

इसे भी पढ़ेंः बकोरिया कांड को लेकर तीसरे दिन भी विधानसभा के बाहर हंगामा, विधायकों ने न्यूज विंग लहराया, सदन स्थगित

सब जानता हू, राज्य को किसने बेचा-किसने खरीदा

सीएम ने कहा कि 22 वर्ष से सदन से जुड़ा हूं. राज्य को जानता हूं. किसने बेचा, किसने खरीदा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हम लोकतांत्रिक दल हैं. 2024 तक सरकार चलेगी. चीफ सेक्रेटरी का बचाव करते हुए कहा कि सीएस पर कोई आपराधिक मामला नहीं है. कानून से बड़ा कोई नहीं है. सीएस के जवाब का अध्ययन हो रहा है. वहीं बकोरिया मामला कोर्ट में है. कहा कि राज्य बढ़ रहा है और हाथी उड़ रहा है.

सरकार नहीं चाहती कि सदन चलेः आलमगीर

दूसरी तरफ विपक्षी नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी मंशा जाहिर कर दी कि जबतक सीएस और डीजीपी हटाये नहीं जाते सदन नहीं चलने दिया जायेगा. कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने सदन के बाहर कहा कि सरकार नहीं चाहती की सदन चले. सरकार यह नहीं चाहती की जनता की आवाज सदन में उठे.

इसे भी पढ़ें- बकोरिया कांड : प्राथमिकी में है दर्ज दो शव स्कॉर्पियो से बरामद हुआ, एफएसएल की रिपोर्ट में स्कॉर्पियो में खून मिलने का जिक्र नहीं

सीएम के शब्दों को जनता तक ले जायेंगेः स्टीफन

झामुमो विधायक स्टीफन मरांडी ने कहा कि मुख्यमंत्री सीएस-डीजीपी को हटाने की मांग को टाल रहे हैं. मुख्यमंत्री ने झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन पर गलत टिप्पणी की है. जेएमएम विधायक ने सीएम को बोरो प्लेयर बताया. कहा कि सीएम के शब्दों को जनता तक ले जायेंगे. जब तक ये अधिकारी नहीं हटेंगे विपक्ष सदन में सहयोग नहीं करेगा. विपक्ष संयुक्त आंदोलन करेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button