न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

यूपी : 170 से अधिक बंदरों की नौ दिनों में मौत, ग्रामीण डरे

102

Lucknow : यूपी के अमरोहा जिले में संदिग्ध परिस्थितियों में बंदरों की लगातार हो रही मौतों से वन विभाग के माथे पर बल पड़ गये हैं. खबरों के अनुसार पिछले नौ दिनों में 170 से अधिक बंदरों की मौत हो चुकी है.  वन, पशुपालन एवं स्वास़्थ़्य विभाग के अधिकारियों की पहल के बाद भी बंदरों की मौतें रुकने का नाम नहीं ले रही है.  बंदरों की मौतों को लेकर वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इसे रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाये जा रहे हैं, मौत के कारणों का पता लगाने के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें – बिना हेलमेट मोटरसाइकिल सवार बेटे से हेड कॉन्स्टेबल ने वसूला फाइन, पेश की मिसाल

खूनी दस्त से बंदरों की मौत हो रही है

 अमरोहा जिले के आदमपुर थाना क्षेत्र के ढवारसी गांव में सात-आठ दिनों से लगातार बंदर मारे जा रहे हैं. गांव वालों के अनुसार बंदर खूनी दस्त होने के बाद तड़प-तड़प कर दम तोड़ रहे हैं.  रोजाना दसबारह बंदर मर रहे हैं. बंदरों की मौत से ग्रामीण डरे हुए ​हैं कि अगर बंदरों की मौत बीमारी से हो रही है, तो कहीं यह ‌बीमारी लोगों को भी अपनी चपेट में ना ले ले. बंदरों की मौत के संबंध में पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ तेजपाल सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम में साबित हुआ है कि बंदर का पेट खाली था; यानी मरने से दोतीन दिन पहले से बंदर ने कुछ खाया नहीं था.  बंदरों का फेफड़ा और लीवर भी खराब मिला है, खूनी दस्त से बंदरों की मौत हो रही है, लेकिन असलियत में मौत का क्या कारण है यह बिसरा की रिपोर्ट आने के बाद ही पता लगेगा. पोस्टमार्टम के बाद बंदरों का बिसरा आरवीआई बरेली भेजा गया है, जिससे बंदरों की मौत का सच सामने आयेगा.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: