न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी सरकार के खिलाफ सोमवार को भी नहीं पेश हो सका अविश्वास प्रस्ताव, मंगलवार तक के लिए कार्यवाही स्थागित

9

New Delhi: संसद के बजट सत्र के दूसरे हिस्से का सोमवार को 11वां दिन रहा. लोकसभा में टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस ने केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया था लेकिन हंगामे की वजह से प्रस्ताव सदन में नहीं रखा जा सका. शुक्रवार को भी दोनों पार्टियों की ओर से यह नोटिस दिया गया था लेकिन सदन ऑर्डर में न होने की वजह से प्रस्ताव को स्पीकर ने मंजूर नहीं किया था.

सदन में जारी रहा हंगामा 

संसद की कार्यवाही शुरु होने के साथ ही विपक्षी दलों ने हंगामा शुरु कर दिया. अलग-अलग मांगों को लेकर टीडीपी, टीआरएस, वाईएसआर कांग्रेस के सांसद वेल में आकर हंगामा करने लगे. जिसके बाद स्पीकर ने लोकसभा की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी. स्पीकर ने सदन को बताया कि उन्हें सदन में अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस मिले हैं लेकिन जब तक सदन ऑर्डर में नहीं होता तब तक वह समर्थन करने वाले सदस्यों की गिनती नहीं कर सकतीं.

इसे भी पढ़ें: सरकार को आपके 100 रूपये का भी चाहिए हिसाब, लेकिन उनकी पार्टी के करोड़ों के विदेशी चंदे की नहीं होगी कोई जांच, फैसले पर उठ रहे सवाल

अविश्वास प्रस्ताव पर हो चर्चा: राजनाथ

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में कहा है कि सरकार चाहती है कि सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा हो. उन्होंने कहा कि सरकार किसी भी मुद्दे पर सदन में चर्चा के लिए तैयार है. संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार  ने कहा, “हम अविश्वास प्रस्ताव का सामना करने के लिए तैयार हैं, क्योंकि हमारे पास पूर्ण बहुमत है।” इससे पहले शुक्रवार को भी दोनों दलों के अविश्वास प्रस्ताव सदन नहीं चलने की वजह से पेश नहीं हो सके थे

इसे भी पढ़ें: पत्थलगड़ी अभियान का मास्टर माइंड विजय कुजूर अपने सहयोगी के साथ दिल्ली से गिरफ्तार

यही स्थिति रही तो संसद मजाक का विषय बन जाएगी : नायडू

NAYDUअलग-अलग मुद्दों पर हंगामे के कारण संसद के सदनों की कार्यवाही नहीं चलने और लगातार गतिरोध बने रहने पर अफसोस जाहिर करते हुए राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने सदन में कहा कि यही स्थिति रही तो संसद मजाक का विषय बन जाएगी.सभापति ने हंगामा कर रहे सदस्यों से सदन की कार्यवाही चलने देने का अनुरोध करते हुए कहा ऐसा मत कीजिये, आप जो कर रहे हैं, वह सब लोग देख रहे हैं . इसी तरह की स्थिति रहने पर संसद मजाक का विषय बन जाएगी. ऐसा मत कीजिये. इस तरह कार्यवाही हर दिन बाधित करना संसद के लोकतंत्र के और देश के हित में नहीं है.नायडू ने कहा मैं सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार हूं. सरकार सभी मुद्दों पर चर्चा कराने के लिए तैयार है. फिर इस तरह कार्यवाही बाधित करने का कारण समझ नहीं आता.ज्ञात हो कि आज भी संसद का दोनों सदन हंगामे और गतिरोध का गवाह बना और बैठक शुरू होने के कुछ ही देर बाद पूरे दिन के लिए कार्यवाही स्थगित कर दी गई.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: