न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्यमंत्री रघुवर दास के व्यवहार से भाजपा को हो सकता है नुकसानः कड़िया मुंडा

7

News Wing Khunti, 13 December: भाजपा में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. पूर्व लोकसभा उपाध्यक्ष और खूंटी सांसद कड़िया मुंडा ने न्यूज विंग से बातचीत में यह बात कही है. हालांकि पार्टी नेता सीमा शर्मा और एक अन्य नेता के खिलाफ दो दिन पूर्व हुई निलंबन की कार्रवाई और मंगलवार को पलामू में भाजपाइयों द्वारा सीएम के खिलाफ प्रदर्शन के सवाल पर सांसद ने सीधी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. इस सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि सभी लोग अलग-अलग प्रकृति के होते हैं यदि सीएम का ऐसा व्यवहार आने वाले दिनों में रहेगा तो इसका नुकसान पार्टी को हो सकता है. उन्होंने इशारों में जरूर कहा कि निलंबन की कार्रवाई के पूर्व कारण बताओ नोटिस जारी किया जाना चाहिए था. 

विधानसभा के छोटे सत्र पर जताई चिंता 
कड़िया मुंडा ने झारखण्ड विधानसभा के लगातार होते जा रहे छोटे सत्र पर भी चिंता जताई है. कहा कि संविधान में सत्र की अवधि को लेकर कोई लिखित प्रावधान नहीं है, लेकिन यह सरकार और विपक्षी दलों की आपसी सहमति के आधार पर सत्र की अवधि और विषय तय होते रहे हैं. राज्य में फिलहाल ऐसा नहीं हो रहा है, जो चिंताजनक है.

इसे भी पढ़ेंः मिनी विधानसभा सत्र को माइक्रो विधानसभा सत्र बनाने में जुटा विपक्ष, सदन की गरिमा को छोड़ दें, पर बच्चों के लिए तो परहेज करें: स्पीकर

लोस सत्र से पहले बुलायी जाती है सभी सांसदों की बैठक
लोकसभा उपाध्यक्ष के कार्यकाल के अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने कहा कि लोकसभा के सत्र बुलाये जाने के पहले सभी दलों के सांसदों के साथ बैठक होती है, जिसमें सत्र की अवधि और सत्र के दौरान उठाये जाने वाले विषयों की चर्चा और उसे तय किये जाते है, ताकि सत्र संचालन में बाधा उत्पन्न नहीं हो. हालांकि झारखण्ड में यह परिपाटी नहीं है जो काफी चिंताजनक है. 

सिर्फ बयानबाजी से नहीं सुधर सकती है कानून व्यवस्था

भाजपा नेताओं की हो रही हत्या पर चिंता जताते हुए कड़िया मुंडा ने कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति राज्य में बेहद खराब है और इसे सिर्फ बयानबाजी कर ठीक नहीं किया जा सकता. यह बेहद चिंताजनक है. उन्होंने कहा कि आम लोगों और राजनीतिक दलों के नेता मारे जा रहे हैं, सरकार सिर्फ श्रधांजलि देने और निंदा करने का काम कर रही है.    

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: