Uncategorized

मीरपुर एकदिवसीय : भारत ने बांग्लादेश को 77 रनों से हराया

मीरपुर (बांग्लादेश) : भारत ने बुधवार को शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में हुए तीसरे और आखिरी एकदिवसीय मैच में बांग्लादेश को 77 रनों से हरा दिया। हालांकि शुरुआती दो मैच जीतकर बांग्लादेश पहले ही सीरीज पर कब्जा जमा चुकी है। भारत से मिले 318 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश की पूरी टीम 47 ओवरों में 240 रनों पर ढेर हो गई।

21 गेंदों में 38 रनों की तेज तर्रार पारी खेलने के बाद सर्वाधिक तीन विकेट चटकाने वाले सुरेश रैना को मैन ऑफ द मैच चुना गया, जबकि श्रृंखला में 13 विकेट चटकाने वाले और बांग्लादेश की जीत में सबसे अहम भूमिका निभाने वाले मुस्ताफिजुर रहमान को प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश को दूसरे ओवर में ही तमीम इकबाल (5) के रूप में पहला झटका लगा। धवल कुलकर्णी की गेंद पर इकबाल पगबाधा हो पवेलियन लौटे।

इसके बाद सौम्य सरकार (40) और लिटन दास (34) ने दूसरे विकेट के लिए 54 रनों की साझेदारी कर टीम को स्थिरता प्रदान की। दोनों बल्लेबाजों ने सात से अधिक के औसत से यह साझेदारी निभाई, हालांकि यह साझेदारी अभी और खतरनाक रूप ले पाती उससे पहले ही कुलकर्णी ने भारत को दूसरी सफलता दिला दी।

10वें ओवर की दूसरी गेंद पर सरकार रविचंद्रन अश्विन को कैच थमा पवेलियन लौटे। सरकार ने 34 गेंदों में तेज हाथ दिखाते हुए पांच चौके और दो छक्के लगाए।

लिटन ने एक बार फिर मुशफिकुर रहीम (24) के साथ तीसरे विकेट के लिए 50 रनों की साझेदारी कर बांग्लादेश को संकट में जाने से बचा लिया। इस बीच कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने गेंदबाजी में बदलाव करते हुए रैना को बुलाया और रैना ने अपने दूसरे ही ओवर में मुशफिकुर को चलता कर भारत को अपेक्षित सफलता दिला दी। मुशफिकुर का कैच विकेट के पीछे धौनी ने लपका।

इसके बाद अक्षर पटेल ने शानदार गेंदबाजी करते हुए एक छोर संभालकर लंबे समय से टिककर खेल रहे लिटन की गिल्लियां बिखेर दीं। लिटन ने 50 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगाए।

इसके बाद बांग्लादेश के स्टार खिलाड़ी शाकिब अल हसन (20) और शब्बीर रहमान (43) के बीच पांचवें विकेट के लिए 30 रनों की और रहमान तथा नासिर हुसैन (32) के बीच छठे विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी हुई।

रैना ने जहां शाकिब को कुलकर्णी के हाथों कैच करा पवेलियन की राह दिखाई, वहीं रहमान को स्टुअर्ट बिन्नी ने 197 के कुल योग पर क्लीन बोल्ड कर दिया। रहमान ने 38 गेंदों में छह चौके लगाए।

रहमान के जाने के बाद बांग्लादेश टीम दबाव में आ गई और अगले 14 ओवरों में 43 रन जोड़कर बांग्लादेश के शेष चार बल्लेबाज भी पवेलियन लौट गए।

रैना के अलावा अश्विन और कुलकर्णी ने दो-दो, जबकि बिन्नी, अक्षर और रायडू ने एक-एक विकेट हासिल किए।

इससे पहले टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने बांग्लादेश के सामने 318 रनों का लक्ष्य रखा।

कप्तान धौनी (69) और अंबाती रायडू (44) के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 93 रनों की साझेदारी ने भारतीय टीम को बड़े स्कोर की ओर अग्रसर करने में अहम भूमिका निभाई। सुरेश रैना ने 21 गेंदों में तीन चौकों और दो छक्कों की मदद से तेजतर्रार 38 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली।

शुरुआती दो मैच हारकर श्रृंखला गंवाने के बाद सम्मान बचाने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका सातवें ओवर की आखिरी गेंद पर लगा, जब सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (29) मुस्ताफिजुर रहमान की गेंद पर विकेटकीपर लिटन दास को कैच थमा बैठे।

रोहित ने 29 गेंदों की पारी में दो चौके और एक छक्का लगाया। इस श्रृंखला में तीसरी बार मुस्ताफिजुर ने रोहित को पवेलियन भेजा।

इसके बाद सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (75) का साथ निभाने आए विराट कोहली (25) ने दूसरे विकेट के लिए 75 रनों की साझेदारी कर टीम को 100 रनों के पार पहुंचाया। शाकिब अल हसन ने 20वें ओवर में कोहली की गिल्लियां बिखरे दीं और बांग्लादेश को दूसरी सफलता दिलाई।

पिछले मैच की तरह इस बार भी धौनी ने बल्लेबाजी क्रम में ऊपर चौथे स्थान पर उतरने का फैसला लिया और धवन के साथ तीसरे विकेट के लिए 42 गेंदों में 44 रनों की साझेदारी की।

इससे पहले कि यह साझेदारी ज्यादा खतरनाक होती, मेजबान टीम के कप्तान मशरफे मुर्तजा ने धवन को नासिर हुसैन के हाथों कैच कराकर भारत को तीसरा झटका दे दिया। धवन ने 73 गेंदों की पारी में 10 चौके लगाए।

धवन के पवेलियन लौटने के बाद हालांकि रायडू और धौनी ने बड़ी साझेदारी कर भारतीय टीम को स्थिरता प्रदान की। धौनी ने 77 गेंदों की पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया। स्टुअर्ट बिन्नी 11 गेंदों में दो चौकों की मदद से 17 रन बनाकर अंत तक नाबाद रहे।

बांग्लादेश की ओर से मशरफे मुर्तजा ने सर्वाधिक तीन विकेट हासिल किए। पिछले दो मैचों में कुल 11 विकेट हासिल कर चुके मुस्ताफिजुर ने दो सफलताएं हासिल कीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button