न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मनोविकार के उपचार में सहायक हो सकता है पूरक आहार

42

London :  शिजोफ्रेनिया जैसी मानसिक बीमारी की शुरूआत में भोजन में मौजूद कुछ पोषक तत्वों से इनके लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है. एक अध्ययन में इस बात का दावा किया गया है. ब्रिटेन स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर के विशेषज्ञों सहित कई अनुसंधानकर्ताओं ने इस बात की पड़ताल की कि क्या मनोविकार से ग्रसित युवाओं के उपचार में पूरक पोषक तत्व अतिरिक्त असर डाल सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – 30 वर्ष की आयु के बाद हर 10 साल पर 10% कम हो जाती है किडनी की कार्य क्षमता

457 युवाओं को लेकर आठ स्वतंत्र क्लिनिकल परीक्षण किये गये

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

SMILE

यह टीम उन 457 युवाओं में पूरक आहार को लेकर किये गये आठ स्वतंत्र क्लिनिकल परीक्षणों के आंकड़े लेकर आयी थी, जिनको शिजोफ्रेनिया जैसी मानसिक बीमारियों की शुरूआत हुई थी. अनुसंधानकर्ताओं ने यह पाया कि मानक उपचारों के साथ इस्तेमाल किये जाने वाले कुछ निश्चित पूरक पोषक आहार लेने से मानक उपचार की तुलना में मनोविकार से ग्रसित युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य में कहीं अधिक सुधार हो सकता है. यह अध्ययन अर्ली इंटरवेंशन इन साइकायट्री पत्रिका में प्रकाशित हुआ है. अध्ययन का नेतृत्व जोसेफ फर्थ ने किया था.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: