न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत बंद के दौरान हॉस्टल में घुसकर पुलिस द्वारा की गई पिटाई के विरोध में हजारों छात्र-छात्राओं ने निकाला कैंडल मार्च

96

Ranchi : भारत बंद के दौरान आदिवासी  हॉस्टल रांची में पुलिस द्वारा किये गए कार्रवाई के विरोध में कैंडल मार्च निकला गया. कैंडल मार्च के दौरान 2 हजार से अधिक की संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थी. मार्च ट्रेकर स्टैंड से फिरायालाल तक गया. अल्बर्ट एक्का चौक में कतारबद्ध तरीके से खड़े होकर विरोध दर्ज कराया. विदित हो कि आदिवासी हॉस्टल कैंपस में बंद का समर्थन कर रहे छात्रों की पिटाई की गई थी और गिरफ्तार भी किया गया था.

mi banner add

इसे भी देखें- रांची: भारत बंद के दौरान समर्थकों का उत्पात, आदिवासी हॉस्टल को खाली करने को निर्देश, पुलिस ने संभाला मोर्चा,  देखें वीडियो

खाली करा दिया गया था हॉस्टल 

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों को प्रशासन  के आदेश के बाद हॉस्टल खाली करा दिया गया था. प्रदर्शन के दौरान जमकर पत्थरबाजी की गयी थी. इसके बाद पुलिस के पुरुष बल के द्वारा महिला हॉस्टल को खाली कराया गया था. साथ ही हॉस्टल की लड़कियों ने पुलिस पर गंभीर आरोप भी लगाए थे. सभी को गिरफ्तार कर कैंप जेल में डाल दिया गया था.

प्रमुख मांग 

  • अविलंब गिरफ्तार छात्र नेता को छोड़ा जाए.
  • छात्रों पर किया गया झूठा मुकदमा तत्काल वापस लिया जाए.
  • आदिवासी महिला हॉस्टल में पुरुष पुलिस द्वारा जबरन घुसकर बर्बरतापूर्ण लाठीचार्जछेड़छाड़, अमानवीय व्यवहार कर रहे पुलिस अधिकारियों पर मुकदमा किया जाय.
  • इस घटना की न्याययिक जांच की जाए.
  • रांची सदर SDO को तत्काल बर्ख़ास्त किया जाए.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: