न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

भागलपुर तनाव मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित शाश्वत पर लगा भावनाएं आहत करने का आरोप, मामला दर्ज

29

Bhagalpur : भागलपुर के नाथनगर में शनिवार को दो पक्षों में हुई हिंसक झड़प में करीब 60 लोग घायल हो गए थे, इस हिंसक झड़प मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के पुत्र अर्जित शाश्वत पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. अश्विनी चौके के बेटे अर्जित शाश्वत चौबे समेत आठ लोगों पर एक विशेष समुदाय की भावनाएं आहत करने और भड़काने का आरोप लगा है.

eidbanner

उल्लेखनीय है कि शनिवार को भारतीय नववर्ष की पूर्व संध्या पर जुलूस निकाला गया था. अर्जित के नेतृत्व में समर्थकों ने  नाथनगर से मोटरसाइकिल जुलूस निकाला था. जैसे ही जुलूस एक विशेष समुदाय के मुहल्ले से गुजरने लगी जुलूस में शामिल लोग जय श्रीराम के नारे लगाने लगे. जिसके बाद विशेष समुदाय की ओर से प्रतिक्रिया आने के बाद दोनों गुटों में विवाद हो गया और देखते ही देखते दर्जनों दुकानें जला दी गईं, मौके पर कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया.

मिली जानकारी के अनुसार उपद्रवियों ने 15 राउंड फायरिंग की और चार बम भी फोड़े. बढ़ते तनाव को देखते हुये क्षेत्र में इंटरनेट सेवा बाधित कर दी गयी. विवाद के बाद कई घंटे तक दोनों ओर से पथराव, बमबाजी, फायरिंग और तोडफ़ोड़ हुई. मौके पर स्थिति को नियंत्रित करने के लिए चार जिलों की पुलिस को बुलाई गई, जिसके बाद स्थिति नियंत्रण में आई.

इसे भी पढ़ें – सुप्रीम कोर्ट से नीतीश कुमार को राहत, सदस्यता को अयोग्य घोषित करने वाली जनहित याचिका खारिज

इसे भी पढ़ें – राजग नेताओं को पासवान की सलाह, बिना सोचे समझे टिप्पणी करने से बचे, चुनाव के दौरान ज्यादा होशियारी बरते

जुलूस में नारेबाजी के कारण हुआ विवाद

प्रथम दृष्टया मिली जानकारी के अनुसार जुलूस के दौरान हुई नारेबाजी के कारण दो गुटों में विवाद हुआ था. भारतीय नववर्ष की पूर्व संध्या पर नववर्ष आयोजन समिति द्वारा मोटरसाइकल जुलूस निकाला गया था. जुलूस आगे जाने के बाद चंपानगर के लोगों ने सड़क पर पथराव शुरू कर दिया था. कई वाहनों को रोककर उसमें तोड़फोड़ की गयी, जिसके बाद बाबू टोला के लोग भी सामने आ गए. और दोनों पक्षों में तनाव बढ़ गया. तीन घंटे से अधिक तक पत्थरबाजी हुई. 

इसे भी पढ़ें – ‘मोदी चौक’ नामकरण को लेकर दरभंगा में नहीं हुई हत्‍या, भूमि विवाद था कारण: पुलिस

Related Posts

पूर्व सीजेआई आरएम लोढा हुए साइबर ठगी के शिकार, एक लाख रुपए गंवाये

साइबर ठगों ने  पूर्व सीजेआई आरएम लोढा को निशाना बनाते हुए एक लाख रुपए ठग लिये.  खबर है कि ठगों ने जस्टिस आरएम लोढा के करीबी दोस्त के ईमेल अकाउंट से संदेश भेजकर एक लाख रुपए  की ठगी कर ली.

mi banner add

इसे भी पढ़ें – तेजस्वी ने फोड़ा ट्वीट बम, भागलपुर तनाव के लिए नीतीश कुमार को बताया जिम्मेवार

इसे भी पढ़ें –बिहार में अगलगी का रविवार : छह दर्जन घर व एक दर्जन दुकान खाक, सिलेंडर विस्फोट में दो दमकलकर्मी समेत तीन गंभीर

मौके से जान बचाकर भागी थी पुलिस

चंपानगर चौक पर दोपहर तीन बजे से दोनों ओर से पत्थरबाजी, गोलीबारी और बमबाजी शुरू हो गयी थी. इस पत्थरबाजी में पांच दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे. पत्थर लगने से डीएसपी और इंस्पेक्टर जख्मी हो गए थे. मौके पर नाथनगर इंस्पेक्टर ने मंदिर में छुपकर अपनी जान बचाई. पत्थरबाजी और बमबारी, गोलीबारी में कई लोग घायल हो गये. स्थिति अनियंत्रित होते देख पुलिस जवान भाग खड़े हुये. भारी संख्या में पुलिस आने के बाद स्थिति को नियंत्रित किया जा सका. स्थिति नियंत्रित होने के बाद भी तनाव व्याप्त है.

इसे भी पढ़ें – ड्रग लाइसेंस के बिना दस साल से चल रहा ब्लड बैंक, डीम्ड लाइसेंस के साथ चार महीने ही चल सकता है ब्लड बैंक

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: