न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर गरीबों तक पहुंचाएं गरीबों की योजनाएंः मुख्यमंत्री

22

News Wing Ranchi, 25 November: राज्य सरकार के द्वारा गांव, गरीब और किसानों के लिए बहुत सी योजनाएं चलायी जा रही हैं. गरीबों की योजनाएं गरीबों तक पहुंचे, यह नौकरशाही के अलावा जन भागीदारी से संभव होगा. आजादी के 70 साल के बाद भी गांवों का विकास आशा के अनुरूप नहीं हो पाया है. विकास जनभागीदारी से ही संभव है. इसी को ध्यान में रखते हुए प्रखंड समन्वयक (ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर) की नियुक्ति की गयी है. अपने प्रखंड को विकसित करने में इनकी भूमिका अहम रहेगी. यह बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने झारखंड मंत्रालय स्थित सभागार में नवनियुक्त प्रखंड समन्वयक सम्मेलन सह मुख्यमंत्री पंचायत प्रोत्साहन पुरस्कार समारोह में कही. उन्होंने कहा कि राज्य से बिचैलियों को समाप्त करना है, ताकि गरीबों को योजना का पूरा लाभ मिले. सीएम ने कहा कि प्रखंड समन्वयक को पंचायत सचिवालय के सहायक के साथ बैठक कर उनके पंचायत के गरीबों की सूची तैयार करानी है. कौन लोग मुर्गी पालन करना चाहते हैं, कौन बकरी या सुअर पालन, कौन मधुमक्खी पालन करना चाहते हैं. इस सूची को एक सप्ताह में तैयार कर जिला समन्वयक को सौंपनी है.

यह भी पढ़ेंः IAS राजीव रंजन किसी काम के नहीं, रिश्वत के लिए रखते हैं बिचौलिए, महिलाओं के साथ भी आचरण ठीक नहीः रिपोर्ट

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना से जोड़े जा रहे 57 लाख परिवार

सीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत खाद्य सुरक्षा से अच्छादित 57 लाख परिवारों को जोड़ा जा रहा है. जल्द ही गरीबों का कार्ड बन जायेगा. इनके वितरण में प्रखंड समन्वयक की सक्रिय भूमिका निभानी होगी. 108 एंबुलेंस सेवा पर निगरानी भी रखेंगे. उन्होंने कहा कि एक दिसंबर से तीन दिन तक सभी प्रखंड समन्वयक रांची में रहेंगे. पंचायत सचिवालय से प्राप्त खाद्य सुरक्षा के तहत बनायी गयी लाल कार्ड की सूची से मिलान करना है. इसके बाद वास्तविक सूची मिल पायेगी. प्रखंड समन्वयक का काम काफी महत्वपूर्ण रहेगा. अच्छा काम करनेवालों को बोनस दिया जायेगा.

ग्रामीण विकास पर खर्च की जा रही बजट की 80 फीसदी राशिः नीलकंठ सिंह मुंडा

ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा ने कहा कि राज्य में ग्रामीण विकास से जुड़ी योजनाओं पर 80 प्रतिशत बजट खर्च किया जा रहा है. इसका असर गांवों में दिख रहा है. हमारी सरकार का प्रयास है कि जनभागीदारी से विकास योजनाओं को लागू किया जाये.

यह भी पढ़ेंः बकोरिया कांडः सीआईडी ने न तथ्यों की जांच की, न मृतकों के परिजन व घटना के समय पदस्थापित पुलिस अफसरों का बयान दर्ज किया

silk_park

इन्हें किया गया पुरस्कृत

कार्यक्रम में देवघर जिला परिषद, मझगांव, डुमरी, महेशपुर व अड़की पंचायत समिति, बरसई, टुंडी, बदला, रुमुत्केल व मायापुर प्रखंड को मुख्यमंत्री पंचायत प्रोत्साहन पुरस्कार दिया गया.

कार्यक्रम में ये थे मौजूद

कार्यक्रम में मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, अपर मुख्य सचिव अमित खरे, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार, समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव  एमएस भाटिया, ग्रामीण विकास सचिव अविनाश कुमार, खाद्य आपूर्ति विभाग विनय चौबे, उद्योग सचिव सुनील कुमार बर्णवाल, पोषण मिशन के महानिदेशक डीके सक्सेना समेत कई वरीय अधिकारी मौजूद थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: