न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो : लाखों की लागत से बने बाजार शेड बेकार, नहीं लगता हाट

16

NEWSWING

Bokaro, 02 December : जिले के पेटरवार, जरीडीह, चास प्रखंड में चार स्थानों में सप्ताह में लगने वाले बाजार को व्यवस्थित तरीके से लगाने के लिए बाजार शेड का निर्माण किया गया था. लेकिन आज भी बाजार से सड़क पर ही लग रहा है. जिस कारण बाजार शेड की उपयोगिता पूरी तरह से खत्म हो गयी है. राष्ट्रीय सम विकास योजना के तहत करीब 25 लाख की लागत से एक-एक बाजार शेड का निर्माण किया गया था. उन दिनों शेड में बाजार को शिफ्ट कराने की योजना भी थी. लेकिन संबंधित अंचलों के अधिकारियों ने बाजार को शेड में सुचारू रुप से चलाने की दिशा में कोई दिलचस्पी नहीं दिखायी. जिस कारण आज भी कई स्थानों पर सड़क के किनारे ही बाजार सजते हैं. जहां लोग जान जोखिम में डालकर सड़क के किनारे खरीदारी करते हैं.

वर्ष 2009 से बाजार के इंतजार में है शेड

बाजार शेड का निर्माण वर्ष 2009 में ही कर लिया गया था. लाखों की लागत से बना बाजार शेड बेकार पड़ा हुआ है. अभी बाजार शेड आवारा पशुओं का डेरा बना हुआ है. वहीं कई शेड अब जर्जर हो चले है.

यह भी पढ़ें : जामताड़ा में बंध्याकरण की बलि चढ़ी एक और महिला, परिजनों ने डॉक्टर के खिलाफ दर्ज करवाया मामला

चास में आज भी सड़क पर हर दिन लगता है सब्जी बाजार

चास में बाजार शेड का निर्माण जोधाडीह मोड़ के पास किया गया था. ताकि हर दिन जोधाडीह मोड़ पर लगने वाले सब्जी बाजार को वहां पर व्यवस्थित तरीके से लगाया जा सके. लेकिन आज भी उस बाजार शेड का उपयोग नहीं हो पा रहा है. वहीं चास नगर निगम का रवैया भी शेड के प्रति उदासीन ही है. सड़क किनारे बाजार लगने से हर वक़्त जोधडीह मोड़ पर भीड़ लगी रहती है. कई बार यहां सड़क पर बाजार लगने के कारण दुर्घटना भी हो चुकी है.

हर शुक्रवार एनएच पर बहादुरपुर में लगता है बाजार

एनएच 23 पर बहादुरपुर के पास हर सप्ताह में शुक्रवार को बाजार लगता है. जबकि बहादुरपुर के बाजार को व्यवस्थित करने के लिए बकसपूरा के सामने टांड में बाजार शेड बनाया गया था. करीब एक दर्जन बाजार शेड वहां पर बन कर तैयार है. उसके बावजूद भी हर शुक्रवार को बाजार सड़क पर ही लगता है. सड़क पर उस दिन शाम को जाम भी लग जाता है कई बार यहां पर छोटी-छोटी दुर्घटना भी बाजार के दौरान हो गयी है.

यह भी पढ़ें : डाल्टनगंज में डीजीपी ने कहा- अरविंद जी सरेंडर करें अथवा गोलियां खाने को तैयार रहें

शेड के पास उग आई हैं झाड़ियां

पेटरवार प्रखंड के उत्तासारा के दारिद गांव के पास हर सप्ताह के रविवार को बाजार लगता है. इस बाजार के लिए भी एक बाजार शेड का निर्माण गांव के पास ही किया गया था. लेकिन आज भी उस बाजार शेड का उपयोग नहीं के बराबर हो रहा है. जिसके कारण बाजार शेड के आस-पास काफी घने जंगल उग आये हैं. वहीं इसी बाजार शेड के जैसा पेटरवार प्रखंड के चांदो गांव में भी बाजार शेड का निर्माण किया गया था. लेकिन चांदो गांव में भी हर सप्ताह सोमवार को लगने वाले बाजार में इसका उपयोग नहीं हो पा रहा है और ना ही इन पंचायतों के जनप्रतिनिधि इन बाजार शेड के उपयोग के लिए किसी प्रकार की कोई पहल कर रहे हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: