न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बोकारो : इस्पात नगर में फैला कूड़े का अंबार, सफाई पर प्रबंधन का ध्यान नहीं

125

Bokaro : शहर के इस्पात नगर में के हरेक सेक्टर में कूड़े का अंबार लगना शुरू हो गया है. पिछले 15 दिनों से बोकारो स्टील के 10 सेक्टरों में सफाई व्यवस्था पूरी तरह से बंद हो गई है. वहीं बोकारो इस्पात प्रबंधन का पब्लिक हेल्थ विभाग भी इस पर मौन बना हुआ है. सफाई नहीं होने के कारण सेक्टर के विभिन्न गलियों में लोगों के द्वारा कूड़ा फेंका जा रहा है. लेकिन सफाई कर्मियों को यह कचड़ा नजर नहीं आ रहा है.

पंद्रह दिनों से बनी है यह स्थिति

सेक्टरों के हर आवास में आकर सफाई मित्र के द्वारा कूड़े को जमा कर उसे एक निश्चित स्थान पर फेंकने का काम किया जाता था. लेकिन जिस एनजीओ को यह ठेका  बोकारो इस्पात प्रबंधन के पब्लिक हेल्थ विभाग की ओर से दिया गया था. उसका ठेका 15 दिन के पहले ही खत्म हो गया है. जिस कारण उस एनजीओ की ओर से भी अब कूड़ा उठाना बंद कर दिया गया है. सेक्टर के आवासों में रहने वाले लोग भी अपने घरों का कूड़ा  उठाकर सीधे गली और सड़कों के कोने में कूड़ेदान के पास ले जा कर फेंक दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- रांची : आम से खास तक के लिए सरकार ला रही है 45 हजार की साइकिल, भाड़ा होगा 5 रुपया प्रति घंटा

कूड़ेदान के आस-पास है गंदगी का अंबार

कूड़ेदान के पास जैसे-तैसे गंदगी फेंके जाने से स्थिति बहुत ही दयनीय हो गयी है. आवारा गाय, भैंस, सूअर उस पर विचरण करना शुरू कर दिए हैं. इस व्यवस्था को लेकर ना तो बोकारो इस्पात प्रबंधन के किसी अधिकारियों का ध्यान है. और ना ही किसी भी राजनीतिक दल के नेताओं का. स्थिति ऐसी होती जा रही है कि और दो चार दिनों के अंदर घरों से कूड़े का कलेक्शन सफाई मित्र की ओर से शुरू नहीं किया गया. तो बोकारो शहर के हर गली और स्ट्रीट कूड़े के ढेर में तब्दील होते नजर आने लगेंगे.

इसे भी पढ़ें- सरकार रंगमंच बनाने में व्यस्त, सबसे ज्यादा खर्च कर रहा है पीआरडी विभाग, सरकार कर रही पैसों का बंदरबांट : हेमंत सोरेन

प्रबंधन नहीं दे रहा ध्यान

बोकारो प्रबंधन की ओर से कुछ मुख्य सड़कों की सफाई मशीन के द्वारा की जा रही है, लेकिन बोकारो शहर के विभिन्न मोहल्लों की सफाई किसी मशीन के द्वारा नहीं की जाती है. उस मोहल्ले की सफाई, सफाई मित्रों द्वारा घरों से कूड़ा उठाकर की जाती थी, लेकिन जब से यह व्यवस्था बंद हो गई है. तब से हर सेक्टरों के स्ट्रीट में गंदगी दिख रही है. इसे फिर से चालू करने की दिशा में प्रबंधन की ओर से किसी भी तरह का कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: