Uncategorized

बॉल टेंपरिंग: शर्मिंदा हैं स्मिथ, प्रेस कॉन्फ्रेंस में फूट-फूटकर रोए, कहा- जिंदगी भर रहेगा पछतावा

Sidney: बॉल टेंपरिंग मामले में विवादों में घिरे ऑस्ट्रेलिया के बर्खास्त कप्तान स्टीव स्मिथ ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अपनी गलतियों पर माफी मांगी. प्रेस कॉन्फ्रेंस में फूट-फूटकर रोते हुए स्मिथ ने माफी मांगी और कहा कि इस गलती का पछतावा जिंदगी भर रहेगा.स्मिथ ने कहा, कि वे इसके लिए कोई भी सजा भुगतने को तैयार हैं. अगर दूसरों के लिए कोई सबक हो सकता है, तो मुझे आशा है कि मैं परिवर्तन के लिए एक बल हो सकता हूं. उन्होंने कहा कि, ‘मैं आशा करता हूं कि समय के साथ मैं अपना आदर वापस पा सकता हूं. क्रिकेट दुनिया का सबसे बड़ा गेम है, यह मेरा जीवन रहा है और मुझे आशा है कि यह फिर से हो सकता है. पूरी घटना कि जिम्मेदारी लेते हुए स्मिथ ने कहा, ‘मैं बिल्कुल निराश हूं, यह मेरे नेतृत्व की विफलता है. मैंने गलत फैसले लेने की गंभीर गलती की है. मैं पूरी जिम्मेदारी लेता हूं.

इसे भी पढ़ें:बॉल टैपरिंग विवाद : स्मिथ ने छोड़ी राजस्थान रॉयल टीम की कप्तानी, रहाणे बने टीम के कप्तान

 

पिक्चर

प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्टीव स्मिथ कई बार रो पड़े. स्मिथ ने कहा, ‘अच्छे लोग भी गलती करते हैं. मैंने भी बड़ी गलती की है कि मैंने ये सब होने दिया. मैंने मेरी तरफ से फैसले लेने में गलती की. मैं शर्मिदा हूं और दिल से माफी मांगता हूं. उम्मीद है कि मैं इस नुकसान की भरपाई कर पाऊंगा. स्मिथ ने रोते हुए कहा, ‘मेरी जानकारी में यह पहली बार हुआ है. मैं आपको इस बात से आश्वस्त कर सकता हूं कि यह दोबारा नहीं होगा. मैं ऑस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान था. यह सब मेरे सामने हुआ. मैं इस घटना की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं. प्रेस कॉन्फ्रेंस खत्म करने से पहले स्मिथ ने कहा, ‘मैं दिल से शर्मिंदा हूं मैं क्रिकेट को प्यार करता हूं. मैं युवा खिलाड़ियों को इस खेल के लिए प्रेरित करना चाहता हूं. मैं चाहता हूं कि बच्चे इस खेल को खेलें. यह घटना बुहत दुख देने वाली है, काफी तकलीफ देती है. मैंने ऑस्ट्रेलियाई प्रशंसकों को जो दर्द दिया उसके लिए मांफी मांगता हूं.

क्या था मामला

साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच न्यू लैंड्स में खेले गए सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में फील्डिंग के दौरान ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज कैमरन बैंक्रॉफ्ट गेंद से छेड़छाड़ करते हुए कैमरे पर कैद हो गए थे. इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्मिथ ने माना था कि बॉल टैंपरिंग उनकी टीम की रणनीति का हिस्सा था. इसके बाद क्रिकेट जगत में स्मिथ और ऑस्ट्रेलियाई टीम की खूब किरकरी हुई थी. इसके बाद स्मिथ और उपकप्तान (पूर्व) को एक वर्ष के लिए बैन कर दिया गया था और बैनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का बैन लगाया था. 

इसे भी पढ़ेंबॉल टैंपरिंग मामला: स्मिथ, वार्नर और बैनक्राफ्ट दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला से बाहर

स्मिथ को दोबारा नहीं मिल सकेगी कप्तानी: इयान चैपल

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल को नहीं लगता कि स्टीव स्मिथ को दोबारा राष्ट्रीय टीम की अगुवाई का मौका मिलेगा और उन्होंने कहा कि देश के क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें और डेविड वॉर्नर को 12 महीने के लिए प्रतिबंधित करके सही फैसला किया. चैपल ने कहा, ‘मैं उन दोनों (स्मिथ और वॉर्नर) में से किसी को दोबारा ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी करते हुए नहीं देखता. कप्तान के रूप में सबसे महत्वपूर्ण चीज में से एक यह है कि आप टीम के अपने साथियों का सम्मान हासिल करो.उन्होंने कहा कि केपटाउन में जिस तरीके से बेवकूफाना हरकत की गई, मुझे नहीं लगता कि उन दोनों में से कोई दोबारा टीम के साथियों का अधिक सम्मान हासिल कर पाएगा. इसलिए मुझे लगता है कि उन दोनों में से किसी के ऑस्ट्रेलिया के कप्तानी करने की बात को भूल जाइए.

बैन खत्म होने के बाद भी 1 साल तक कप्तान नहीं बन सकते स्मिथ

स्मिथ और बेनकॉफ्ट अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट से संबंधित निलंबन खत्म होने के बाद कम से कम 12 महीने तक कप्तान नहीं बन सकते.  क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के अध्यक्ष डेविड पीवेर ने कहा, ‘भविष्य में इन्हें कप्तानी सौंपने के बारे में तभी विचार किया जाएगा, जब प्रशंसक, जनता और अधिकारी इन्हें माफ कर दें.

 न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button