न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बैंक अकाउंट से आधार लिंकः बरतें सावधानी, नहीं तो इनके जैसा होगा आपका भी हाल

12

Md. Asghar Khan 

Ranchi, 25 November: बैंक अकाउंट को आधार से लिंक करना अनिवार्य है. लेकिन, तब क्या हो जब आपका अकाउंट किसी और के आधार कार्ड से बैंक लिंक कर दे, और आपके खाते से पैसे की निकासी भी हो जाए. आपको जबतक इस बात की जानकारी मिलेगी आपका खाता खाली हो चुका होगा. ऐसा ही कुछ हुआ है शमीम अंसारी के साथ. अब उनकी हालत ये है कि वो बैंकों के चक्कर काट रहे हैं. कभी अपने ब्रांच में तो कभी हेड ब्रांच में. मामला बेड़ो थाना के टांगर बस्ती के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया है. जहां के खाताधारी शमीम अंसारी के अकांउट को किसी दूसरे शख्स के आधार कार्ड के नंबर से लिंक कर दिया गया. बैंक कर्मचारी की इस गलती की वजह शमीम अंसारी के एकाउंट से आठ हजार रुपये किसी ने निकाल लिया. वहीं शिकायत करने पर एसबीआई के अधिकारियों ने अपना पल्ला झाड़ लिया.

यह भी पढ़ेंः IAS राजीव रंजन किसी काम के नहीं, रिश्वत के लिए रखते हैं बिचौलिए, महिलाओं के साथ भी आचरण ठीक नहीः रिपोर्ट

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि पिछले कई महीनों से विभिन्न बैंकों की तरफ से खाताधारियों को अकाउंट आधार कार्ड से लिंक कराने हेतु एसएमएस भेजा जा रहा है. इसी के तहत शमीम अंसारी भी (खाता नंबर-32611974858) को टांगर बंसली स्थित एसबीआई में आधार कार्ड से लिंक करवाने पहुंचे. शमीम अंसारी ने बताया उनके अकाउंट को गलत आधार कार्ड नंबर(419220289303) से लिंक कर दिया गया. जिसके बाद 22 सितंबर 2017 को उनके अकाउंट से पांच और तीन हजार कर दो बार में आठ हजार रुपये की निकासी कर ली गई है. शमीम अंसारी का कहना है कि बैंक मनैजर से शिकायत करने पर, कहते हैं कि लिंक वाली समस्या हल कर ली जायेगी, लेकिन राशि रिकवर नहीं करवा सकते हैं. अंत में उन्होंने इस बाबत भारतीय स्टेट बैंक रांची, के हेड ऑफिस में आवेदन देकर राशि ट्रांसफर करने की गुहार लगाई है.  

यह भी पढ़ेंः बकोरिया कांडः सीआईडी ने न तथ्यों की जांच की, न मृतकों के परिजन व घटना के समय पदस्थापित पुलिस अफसरों का बयान दर्ज किया

क्या कहते हैं बैंक मैनेजर

इस संदर्भ में बैंक मनैजर ने कहा कि आधार कार्ड के लिंक में सुधार कर लिया जायेगा, लेकिन इस गलती के लिए कौन जिम्मेदार है और राशि ट्रांसफर की संबंध में कुछ बताने से उन्होंने अपना पल्ला झाड़ लिया. कई बार कॉल को भी कट कर दिया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: