न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बिहार: शिक्षिका ने प्राचार्य व शिक्षक पर लगाया बदतमीजी करने का आरोप, गिरफ्तार

11

News Wing
Sitamarhi, 05 December: 
जिला मुख्यालय से सटे भीसा रोड स्थित एनएस डीएवी पब्लिक स्कूल के प्राचार्य वीरेंद्र ठाकुर व शारीरिक शिक्षक राजकरण ठाकुर को सोमवार की सुबह एक शिक्षिका के साथ छेड़खानी करने के आरोप में डुमरा थाना पुलिस ने हिरासत में ले लिया. डुमरा थाना अंतर्गत एक गांव निवासी पीड़ित शिक्षिका ने पुलिस को आवेदन देकर बताया हैं कि वह 15 साल से डीएवी में शिक्षिका के पद पर कार्यरत है. घटना की सुबह जब वह अपने क्लास रूम में थी, उसी वक्त माइक से अनाउंस कर प्राचार्य ने उसे अपने कक्ष में बुलाया. जब वह प्राचार्य के कक्ष में गयी, तो वहां प्राचार्य के साथ शिक्षक राजकरण ठाकुर भी बैठे थे. 

अपने कक्ष में बुलाकर शिक्षिका के साथ प्राचार्य ने की बदतमीजी

राजकरण ने उठ कर गेट सटा दिया. प्राचार्य ने उसे बदतमीज महिला का संबोधन करते हुए कहा कि तुमलोग, मेरे मैसेज का जवाब क्यों नहीं देती हो. यह कह कर प्राचार्य ने उसका हाथ पकड़ लिया. वह किसी तरह हाथ छुड़ा कर हल्ला करते हुए भागी तो गेट पर राजकरण ने कहा कि क्यों भाग रही हो. हल्ला होने पर स्कूल की शिक्षिका व अन्य स्टॉफ के आने पर उसने आपबीती बतायी. शिक्षिका का आरोप है कि यह सारी हरकत शिक्षक राजकरण ने साजिश के तहत रची थी. पीड़ित शिक्षिका के आवेदन में बतौर गवाह डीएवी के शिक्षक व शिक्षिका रेखा गुप्ता, अभिलाषा कुमारी, प्रीति वर्मा, पुनीता, सीमा कुमारी, प्रिया, कंचन कुमारी पांडेय, मंदिरा कुमारी, अपराजिता कुमारी, अमित कुमार श्रीवास्तव व ब्रजेश कुमार भी हैं.

hosp3

यह भी पढ़ें: सचिव से भी ज्यादा सैलरी विभाग के कंसल्टेंट्स को, मार्च तक का एडवांस वेतन भी ले चुकी है कंपनी, लेकिन विभाग के किसी काम के नहीं

राकेश कुमार, डीएसपी 

इस मामले की जांच सदर डीएसपी कुमार वीर धीरेंद्र कर रहे है. जांच के बाद विधिसम्मत कार्रवाई की जायेगी. फिलहाल प्राचार्य को पूछताछ के लिए डुमरा थाने पर लाया गया है.

वीरेंद्र ठाकुर, प्राचार्य 

शिक्षिका का आरोप पूरी तरह बेबुनियाद हैं. वह पठन-पाठन को व्यवस्थित करने के लिए शिक्षक व शिक्षिकाओं को अनुशासित कर रहे थे. योजनाबद्ध तरीके से उन्हें फंसाया गया हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: